बुधवार, 22 अक्तूबर 2014

विश्व की प्रत्येक समस्या का समाधान भारतीय चिंतन में

बाड़मेर।  राष्ट्रीय  स्वयंसेवक संघ के प्राथमिक संघ शिक्षा वर्ग के समापन के अवसर पर पथ संचलन का आयोजन किया गया।  समापन समरोह में दंड, योग एवं सूर्यनमस्कार का प्रदर्शन स्वयंसेवकों  द्वारा किया गया।  
इस अवसर पर जिला सह संघचालक रिखब दस बोथरा ने कहा कि भारतीय संस्कृति प्राचीनतम संस्कृति है  इसकी विरासत व् ज्ञान अतुलनीय है।  विश्व की प्रत्येक समस्या का समाधान भारतीय चिंतन में है। 
जिला कार्यवाह गोपाल कृष्ण चौधरी ने बताया की बायतु , बाड़मेर तहसील एवं शहर के ३२ स्थानो से १४२ स्वयंसेवको ने वर्ग में प्रशिक्षण प्राप्त किया। 

साभार:दैनिक भास्कर

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित