शुक्रवार, 17 अक्तूबर 2014

बिना भेदभाव के नागरिक और राष्ट्रीय बोध जगाने का काम करता है संघ: श्री दत्तात्रेय होसबाले





बैठक का इक दृश्य

प्रेस वार्ता में डॉ  मनमोहन जी वैध एवं दत्तात्रेय जी होस्बोले

संघ शक्ति


बिना भेदभाव के नागरिक और राष्ट्रीय बोध जगाने का काम करता है संघ: श्री दत्तात्रेय होसबाले


- गाँव-गाँव तक पहुँचा संघ कार्य


लखनऊ-17 अक्तूबर, 2014। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ बिना किसी भेदभाव के अपने कार्यों के विस्तार के साथ ही समाज में नागरिक बोध जगाने का काम करता है जिससे देश में अनुसान, कर्मनिष्ठा, सार्वजनिक स्वच्छता, पर्यावरण आदि विषयों में जाग्रति आये। संघ राहत कार्यों में हिन्दू और मुसलमानों में भेद नहीं करता।  संघ सम्पूर्ण देश के बारे में चिन्तन करता है। सरकार को काम करने का समय देना चाहिए। कार्यों की प्राथमिकता तय करना सरकार पर छोड़ना चाहिए।
यह बात रा.स्व.संघ के सह सरकार्यवाह श्री दत्तात्रेय होसबाले ने कही। वह अखिल भारतीय कार्यकारी मण्डल की बैठक प्रारम्भ होने के अवसर पर पत्रकारों से वार्ता कर रहे थे। उन्होंने कहाकि अखिल भारतीय तथा क्षेत्रीय पदाधिकारियों की यह बैठक दशहरा व दीवाली के बीच में होती है। यह सामान्य बैठक है। फिर भी तात्कालिक विषयों पर इसमें चर्चा होती है। जम्मू-कश्मीर, आन्ध्र, उड़ीसा, मेघालय की दैवीय आपदा तथा कश्मीर में सीमा पार की गोलीबारी से मारे गये लोगों व शहीद सैनिकों के प्रति श्रद्धांजलि व्यक्त की गयी। उड़ीसा, आन्ध्र, मेघालय, जम्मू-कश्मीर में प्राकृतिक आपदा के 6-7 घण्टे के अन्दर ही संघ के स्वयंसेवक राहत कार्य में लग गये थे। जम्मू-कश्मीर की आपदा में 3085 लोगों को स्वयंसेवकों ने सुरक्षित स्थान पर पहुँचाया, 140 स्वास्थ्य शिविर लगाये गये। जिसमें 21 हजार लोगों का इलाज किया गया। इसके अलावा बड़ी मात्रा में राहत सामाग्री वितरित की गयी। संघ आपदा प्रभावित सभी इलाकों में पुनर्वास का काम करेगा। जम्मू-कश्मीर में ठण्ड बढ़ेगी, इसे ध्यान में रख कर विशेष राहत कार्य किया जायेगा।
पिछले 3 वर्षों में रा.स्व.संघ के कार्यों का बहुत विस्तार हुआ है। सभी मुख्य मार्गों के दोनों ओर के सभी गावों में संघ कार्य को विस्तार देने की योजना बनायी गयी है। अण्डमान से लेकर लेह-लद्दाख तक देश के सभी हिस्सों में संघ की 4500 शाखाएँ एवं 1500 साप्ताहिक मिलन बढ़े हैं, कई प्रान्तों में 20 प्रतिशत कार्य बढ़ा है। आॅनलाइन ज्वाॅइन आर.एस.एस. नाम से शुरू हुए सोशल मीडिया कार्यक्रम से लोग बड़ी संख्या में जुड़ रहे हैं। संघ कार्य से परिचित कराने के लिए 1-2 दिन के संघ परिचय वर्ग लगाये जा रहे हैं, इसमें भारी संख्या में लोग सम्मिलित हो रहे हैं जिसमें अलग-अलग आयु वर्ग के लोगों को संघ से परिचित कराया जायेगा। समाज में अनुशासन, सफाई, नागरिक बोध, वृक्षारोपण आदि माहौल बनाने के लिए अभियान चलाने पर भी चर्चा होगी। देशहित में ऐसे कार्य संघ पहले से ही करता आ रहा है।


विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित