मंगलवार, 6 अप्रैल 2010

सेना का ‘युद्धशक्ति’ इसी माह

विशेष संवाददाता
First Published 04:36[IST](06/04/2010)
Last Updated 04:36[IST](06/04/2010)

जोधपुर. भारतीय थल सेना राजस्थान से सटी सीमा के नजदीक पोकरण फायरिंग रेंज में अप्रैल के मध्य में वार गेम ‘युद्धशक्ति’ शुरू करेगी। युद्ध रणनीति कौशल, ताकत व रात्रिकालीन विजन की मारक क्षमता परखने के लिए होने वाले सेना के इस युद्धाभ्यास में मैकेनाइज्ड फोर्स, आम्र्ड कोर और आर्टिलरी कोर के पांच हजार सैनिक शामिल होंगे।



एक महीने तक चलने वाले युद्धाभ्यास मंे सेना की स्ट्राइक कोर तोप गोलों से लेकर बख्तरबंद टैंकों तक में दुश्मन से लड़ने की महारत हासिल करेगी। सेना के जांबाज दुश्मन के काल्पनिक ठिकाने ध्वस्त कर जीवंत जंग लड़ेंगे।



सेना के इस महत्वपूर्ण अभ्यास में वायुसेना के लड़ाकू विमान और हेलीकाप्टर मदद करेंगे। ऑपरेशन पराक्रम से सबक लेने के बाद सेना वार गेम का आयोजन कर अपनी ताकत का आकलन कर रही है। मथुरा स्थित सेना की 1 कोर इस वार गेम का आयोजन करेगी। इसमें मैकेनाइज्ड फोर्स, आम्र्ड कोर व आर्टिलरी मिसाइल,गोला, बारूद, बख्तरबंद टैंकों के साथ रेतीले टीलों पर दुश्मन से लड़ने का अभ्यास करेगी।



इसमें आधुनिक बैटल टैंक टी-90 व टी-72 के अलावा आर्टिलरी गन की मारक क्षमता को परखा जाएगा। इस अभ्यास में दुश्मन की सेना को अधिक से अधिक नुकसान पहुंचाने और अपना कम से कम नुक्सान हो, इसके गुर सीखने के साथ ही काल्पनिक जंग में सेना की स्ट्राइक कोर अपनी ताकत व दक्षता दिखाएगी।



इस अभ्यास में सेना में शामिल नए अत्याधुनिक मिसाइल, उपकरणों व नाइट विजन की क्षमता को भी परखा जाएगा। यौद्धाशक्ति में काल्पनिक दुश्मन टीम के साथ जीवंत जंग होगी। अभ्यास के आखिरी दौर में वायुसेना के लड़ाकू विमान मिग, जगुआर व मिराज के अलावा डेजर्ट हॉक के जंगी हेलीकाप्टर भी शामिल होंगे। एयरफोर्स के प्रवक्ता विंग कमांडर टी एस सिंगा ने बताया कि अप्रैल मध्य में शुरू होने वाले इस सेना के वारगेम यौद्धाशक्ति वायुसेना भी मदद करेगी, लेकिन अभी इसकी तिथि तय नहीं हुई है।



सीमा पार भी 10 अप्रैल से होगा युद्धाभ्यास



सेना के इस महत्वपूर्ण अभ्यास की तैयारियां शुरू हो गई हैं। बख्तरबंद टैंक, तोपें व गोला-बारूद पोकरण फायरिंग रेंज पहुंचने लगा है। पाकिस्तानी सेना सीमा पार ‘अज्म-ए-नेयू’ नामक युद्धाभ्यास 10 अप्रैल से शुरू करने वाली है। यह अभ्यास 13 मई तक चलेगा। उसमें पाकिस्तानी वायुसेना भी शामिल होगी

strot : http://www.bhaskar.com/2010/04/06/army-yudhshakti-this-month-only-845309.html


विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित