रविवार, 18 अप्रैल 2010

कश्मीर और अरूणाचल के लोगों के लिए अलग वीजा दे रहा है चीन

नई दिल्ली। चीन ने एक बार फिर से अरूणाचल प्रदेश को विवादित क्षेत्र बताते हुए निशानेबाज पेंबा को अलग पन्ने पर वीजा देकर उत्तर-पूर्व के इस सूबे के बारे में अपनी नीति का इजहार किया है।जब पेंबा तमांग स्टेपल वीजा के लिए चीन की उडान पर सवार होने जा रहे थे तो हवाई अड्डे पर मौजूद अधिकारियों ने उन्हें रोक लिया। तमांग अब प्रतियोगिता में भाग नहीं ले सकेंगे। उन्होनें खुद इस बात का खुलासा किया है।सूत्रों के अनुसार विदेश मंत्रालय ने इस मामले में हस्तक्षेप किया लेकिन परिणाम निराशाजनक ही रहा। चीनी दूतावास लगातार कश्मीर और अरूणाचल प्रदेश के लोगों को भारतीय पासपोर्ट के पन्नों पर वीजा की मुहर नहीं लगाता आ रहा है। उन्हें अलग पन्नों पर वीजा देकर स्टेपल कर दिया जाता है।विदेश मंत्रालय ने चीन के इस तरह से दिए गए वीजा को स्वीकार करने से साफ इनकार कर दिया। पेंबा ने खुलासा किया कि वह पहले भी इस तरह के वीजा पर तीन बार चीन जा चुका है। चीनी दूतावास के सूत्रों के अनुसार फिलहाल अधिकारियों ने यही जवाब दिया है कि उन्हें दिया गया वीजा मान्य और वैध है।

स्त्रोत:http://www.khaskhabar.com/china-issues-stapled-visa-to-kashmiri-and-arunachal-pradesh-peoples-04201017738803568.html

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित