बुधवार, 18 मार्च 2015

कच्छ पश्चिमी सीमा ​पर 1971 में पाकिस्तान से भारत आये लोगों के गांव में मनाया शाखा का वार्षिकोत्सव

कच्छ पश्चिमी सीमा ​पर 1971 में पाकिस्तान से भारत आये लोगों के गांव में मनाया शाखा का वार्षिकोत्सव

1132
शाखा का दृश्य


कच्छ, ​ गुजरात – भारत की पश्चिमी सीमा, गुजरात में ​कच्छ के पश्चिम छोर नारायण सरोवर के पास नवानगर गांव की शाखा का वार्षिकोत्सव दिनांक 15 मार्च 2015 को उत्साह पूर्ण संपन्न हुआ.

1126
मंच  का दृश्य
नवानगर गांव के निवासी रूढञीवादी होने बाद भी अच्छी संख्या में मातृशक्ति ने​ संघस्थान पर पूर्ण समय उपस्थित रह कर स्वयंसेवकों का उत्साहवर्धन किया.

भारत की ​सीमा पर उत्सव था. उसी के अनुरूप​ बौद्धिक भी सीमा जनकल्याण समिति गुजरात के सह मंत्री ​भरता गोरसीया का रहा. भारत की इस ​पश्चिमी सीमा पर प्रतिदिन शाम ​भारत माता की जय का घोष गूंजता हैं .
क्योकि राष्ट्रिय स्वयंसेवक संघ की सायं शाखा वर्ष 1989-90 से ​नियमित रूप से लगती है. ​

116
 इस गांव की विशेषता यह ​है ​कि पूरा गांव सन 1971 में पाकिस्तान से ​भारत ​आया था. गांव की जनसंख्या लगभग 1,200 है. अधिकतर लोग मजदूरी एवं खेती करते हैं. गांव की बहनें, माताएं पशुपालन और हस्तकला के व्यवसाय से जुड़ी हैं.
11511141

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित