शनिवार, 12 जनवरी 2013

खबरे शोभायात्रा की ........जोधपुर प्रान्त से








pkSgVu ] ckM+esj Lokeh foosdkuUn lk/kZ’krh ds fufeÙk pkSgVu rglhy dsUnz dk mn~?kkVu dk;ZØe dh HkO; ‘kkSHkk ;k=k dk vk;kstu fd;k x;k ftlesa pkSgVu ‘kgj ds jk-m-ek-fo-pkSgVu] jk-ck-m-ek-fo-pkSgVu] vkn’kZ fo-ea-m-ek-]pkSgVu] fojk=k ifCyd Ldwy] [khejkt Mkslh cky efUnj] dqEHkkjke vk;Z f’k{k.k laLFkku] ‘kadj cky fudsru] enj Vsjslk fczfy;UV ,dsMeh] ekjokM+ ifCyd Ldwy lfgr ‘kgj ds lHkh jktdh; vkSj futh fo|ky;ksa ds ikap gtkj Nk= Nk=kvksa ds gkFk esa Lokeh foosdkuUn dh f’k{kkvksa okyh rf[r;k vius gkFk esa ysdj pys vkSj ‘kgj ds bu fo|ky; dh 300 cfgusa dy’k ;k=k esa ‘kkfey gqbZA ogha 150 eksVjlkbZfdy o ipkl fo|kFkhZ Lokeh foosdkuUn cudj vkd”kZd Lokeh foosdkuUn dk jFk ds ihNs ihNs l/ks gq, dneksa ls pkSgVu dh vc rd dh ,sfrgkfld ‘kkSHkk ;k=k tks dqy feydj 2 fdeh- yEch Fkh] pkSgVu ds LVsfM;e ls izkjEHk gksdj vkn’kZ fo|k efUnj m-ek- esa lHkk ds :Ik esa cny xbZA ftlesa eq[; vfrfFk HkosUnz dqekj xks;y us fo|kfFkZ;ksa dks Lokeh foosdkuUn ls izsj.kk ysdj vius thou dks ml vuq:Ik <+kyus dk vkg~oku fd;k A ogha eq[; oDrk fj[kcnklth cksFkjk ¼ek- lg ftyk la?kpkyd½ th us lEcksf/kr djrs gq, Lokeh foosdkuUnth ds thou ij izdk’k Mkyrs gq, o”kZ iz;Ur lEiUu gksus okys dk;ZØeksa dh tkudkjh nh o ftl izdkj Lokeh foosdkuUn Fks f’kdkaxksa ls lEiw.kZ fo’o Hkj esa gqadkj Hkj nhA mlh izdkj vkt fQj ^mfrf”Br tkxzr** dh vko’;drk gSA fQj ls ekr`Hkwfe ds fy, tkx:d gksus dh vko’;drk ij cy fn;kA


बालोतरा . आज का  उद्घाटन कार्यक्रम में बालोतरा के शहीद भगत सिंह सभा स्थल में आयोजित हुआ। उद्घाटन समारोह में नगरपालिका के अध्यक्ष श्री महेश चुहन , जिला संघचालक श्री सुरंगी लाल सालेचा तथा आयोजन समिति के संयोजक श्री भवानी शंकर गौड़ ने किया।
जिला प्रचार प्रमुख अरुण जी सालेचा ने बताया की 18 स्कुलो के  विद्यार्थी तथा अनेक कार्यकर्त्ता शोभायात्रा में शामिल हुए जो की शहर के मुख्य मार्गो से निकली
युवाओं ने जगाया 'विवेक' का 'आनंद' 
सार्धशती उद्घाटन कार्यक्रम पर रैलियां निकाली, सभाओं का हुआ आयोजन 
 बालोतरा
स्वामी विवेकानंद सार्धशती समारोह आयोजन समिति की ओर से शनिवार को सार्धशती वर्ष का उद्घाटन कार्यक्रम शनिवार को आयोजित हुआ। कार्यक्रम से पहले नगर की विभिन्न स्कूलों से सैकड़ों विद्यार्थी रैली के रूप में शहर के मुख्य मार्गों से होते हुए भगतसिंह सर्कल पहुंचे। जहां उद्घाटन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। रैली में महाभगवती उमावि, बाल विद्या मंदिर, अग्रसेन उमावि, महर्षि बाल विद्या मंदिर, सिटी पब्लिक स्कूल, सीनियर गल्र्स व बॉयज, मदर इंडिया स्कूल, महर्षि गौतम मोंटेसरी, सेंट जेवियर, मदर टेरेसा स्कूल, आदर्श विद्या मंदिर माजीवाला, बालिका आदर्श विद्या मंदिर, आचार्य तुलसी उमावि सहित कई स्कूलों के छात्र-छात्राएं स्वामीजी के नारें लगाते शहर के विभिन्न मार्र्गो से होते हुए शहीद भगतसिंह सभा स्थल पहुंचे। कई विद्यार्थियों ने रैली में विवेकानंद के वेश में भाग लिया। सभी स्कूलों के रैलियों के संगम स्थल शहीद भगतसिंह सभा स्थल पर उद्घाटन कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में बतौर अतिथि शरीक हुए नगरपालिका अध्यक्ष महेश बी चौहान व राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जिला संघचालक सुरंगीलाल सालेचा की ओर से कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। इसके बाद नगर संयोजक भवानीशंकर गौड़ ने स्वागत भाषण दिया। भाषण के बाद सतीश व्यास व सुरेश चितारा की ओर से गीत की प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम में अतिथियों ने बताया कि वर्ष २०१३ में स्वामीजी विवेकानंद सार्धशती समारोह विश्व स्तर पर आयोजित किए जाएंगे। विवेकानंद ने जीवन काल व उसके बाद की शताब्दी के पहले कालखंड में राष्ट्रीयता को जागृत किया तथा शिक्षा, समाज सुधार, आध्यात्मिक सेवा के साथ ही स्वतंत्रता संग्राम में भाग लेने के लिए कई लोगों को प्रेरित किया। उन्हीं का संदेश हमें जन-जन तक पहुंचाना है। जिला सह संयोजक चंपालाल गौड़ ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन अमित दवे ने किया। कार्यक्रम में दौलाराम सोनगरा, भरत लोहिया, मुकेश बाहेती, अशोक व्यास, सागलराम परिहार, अरुण सालेचा, जोश सर, मधु गौड़, मधु खत्री, अशोक हुंडिया, हरिप्रसाद सहित गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

एबीवीपी ने निकाली वाहन रैली 
शनिवार शाम करीब ५.३० बजे एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने भवानीसिंह राजपुरोहित के नेतृत्व में वाहन रैली निकाली। रैली रेल्वे स्टेशन से रवाना होकर नगर के मुख्य मार्गो से होते हुए वापस रेल्वे स्टेशन के सामने पहुंची। जहां शाम ७ बजे स्वामी विवेकानंद के चित्र के सम्मुख १५० दीपक जलाए गए।

निकाली शोभायात्रा

जसोल. स्वामी विवेकानंद की १५० वीं जयंती पर शनिवार को सार्धशती आयोजन समारोह समिति की ओर से शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा माली समाज भवन से सवेरे १० बजे रवाना हुई। जिसमें विभिन्न स्कूलों व अन्य संस्थाओं की ओर से झांकियों का प्रदर्शन किया गया तथा स्वामीजी के उद्देश्यों को आमजन तक पहुंचाया गया। शोभायात्रा का विसर्जन श्री एनएस वोहरा राजकीय उमावि में हुआ। जहां उद्घाटन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में समिति के संरक्षक मोहनलाल खंडेलवाल ने स्वामीजी के उद्देश्यों व सिद्धांतो को जीवन में उतारने की प्रेरणा दी। कार्यक्रम का संचालन सुरेश चौधरी ने किया।

सिवाना. स्वामी विवेकानंद की १५० वीं जयंती पर सार्धशती समारोह आयोजन समिति के तत्वावधान में धूमधाम से मनाई गई। दोपहर २.३० बजे एक दर्जन शिक्षण संस्थाओं के छात्र-छात्राओं की ओर से स्वामीजी के जीवन आदर्शों पर आधारित आकर्षक झांकियों के साथ शोभायात्रा निकाली गई। झांकियों के मूल्यांकन के बाद प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली राउमावि सरस्वती विद्या मंदिर स्कूल को सतीशकुमार की ओर से स्मृति चिह्न देकर प्रोत्साहित किया गया। इस मौके पर पंचवटी आश्रम के महंत किशनानंदगिरी महाराज ने संबोधित किया।

मोकलसर. स्वामी विवेकानंद स्वामी की १५० वीं जयंती कॅरियर डे के रूप में मनाई गई। क्षेत्र के विभिन्न स्कूलों में स्वामीजी की जयंती पर रैलियां निकाली गई। वहीं कस्बे के खेतेश्वर आदर्श विद्या मंदिर, गुरुकृपा माध्यमिक स्कूल, ज्योति बा फूले मावि, रामदेव बाल निकेतन सहित क्षेत्र की कई स्कूलों में कार्यक्रम आयोजित हुए।

खंडप. स्वामी विवेकानन्द की150 वीं जयंती को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में सरकारीव गैर सरकारी स्कूलों में धूमधाम से मनाया गया। इस दौरान विभिन्न स्कूलों की छात्र-छात्राओं ने रैली निकाली। रैली के बाद कार्यक्रम आयोजित किए गए। कार्यक्रम के दौरान विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। प्रभारी रमेश कुमार ने बताया कि राउप्रा स्कूल में निबंध, चित्रकला, भाषण सहित कई प्रतियोगिताएं आयोजित हुई। प्रतियोगिताएं में छात्र-छात्राओं ने उत्साहपूर्वक बढ़-चढ़कर भाग लिया। संस्था प्रधान मोहनलाल ने आभार व्यक्त किया।

समदड़ी. स्वामी विवेकानंद जयंती पर शनिवार दोपहर २.३० बजे नृसिंहदास महाराज, रामद्वारा के संत क्षमाराज महाराज, मठ के महंत गोपाल भारती महाराज के सानिध्य में शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा में नृसिंहदास महाराज घोड़े पर सवार व पीछे कन्याएं कलश धारण किए हुए तथा विवेकानंद के वेश मेंवेशभूषा धारण किए स्कूलों के छात्र चल रहे थे। शोभायात्रा कस्बे के विभिन्न मार्गों से होते हुए गोविंदराम महाराज बगेची पहुंची। शोभायात्रा का जगह-जगह पुष्पवर्षा के साथ स्वागत किया गया। गोविंदराम बगेची प्रांगण में नृसिंहदास महाराज व श्रद्धालुओं की उपस्थिति में स्वामी विवेकानंद की आरती की गई। इस दौरान विधायक कानसिंह कोटड़ी ने स्वामीजी के संदेशों को आमजन तक पहुंचाने का आह्वान किया। शोभायात्रा में सरपंच बाबूलाल परिहार, भाजपा नगर अध्यक्ष मांगीलाल रांकावत, महामंत्री श्यामसुंदर दवे, समारोह प्रचार प्रमुख बाबूसिंह राजगुरु, भाजपा चिकित्सा प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष टीकमचंद राजपुरोहित सहित गणमान्य नागरिक मौजूद थे। इसी तरह राजकीय उप्रावि देवलियारी में विवेकानंद जयंती को कॅरियर डे के रूप में समारोहपूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम में प्रधानाध्यापक चंद्रकांत व्यास ने विवेकानंद की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि विवेकानंद के आदर्शों को जीवन में उतारना चाहिए। स्वामी विवेकानंद सार्धशती समारोह समिति के तत्वावधान में स्वामीजी की झांकी कनाना गांव के सभी स्कूलों के विद्यार्थियों की ओर से निकाली गई।

पचपदरा. निकटवर्ती सिमरखिया पुरोहितान गांव के सती माता विद्या मंदिर उप्रावि में सामान्य ज्ञान, मेहंदी व एकल गीत प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

रमणिया. क्षेत्र के भागवा स्थित राजकीय माध्यमिक स्कूल में जयंती धूमधाम से मनाई गई। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सरपंच मूलेंद्रसिंह भायल व अध्यक्षता जिला परिषद सदस्य भीखाराम भील ने की।

पाटोदी. कस्बे के सीनियर सैकंडरी स्कूल में कॅरियर डे धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम के दौरान निबंध, पत्र वाचन, श्लोक व चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। 



Lokeh foosdkuUn dh HkO; “kksHkk;k=k fudyh
xMjkjksM+ 12
        Lokeh foosdkuUn ds 150 osa tUefnu ij HkO; “kksHkk;k=k LFkkuh; jktdh; lhfu;j lSd.Mh ls fudkyh xbZ tks dLc]sfofHkUu ekSgYyksa]mrjh es?koky cLrh]f”ko pkSjkgk]cl LVS.M]eq[; cktkj ls gksrs gq, vkn”kZ fo|k efUnj ek/;fed igwaphA
            “kksHkk;k=k esa loZizFke Lokeh foosdkuUn dk jFk]cMs+ okgu]nksifg;k okgu]cfguksa ds }kjk dy”k mBk, x,]x.k ekU; ukxfjd]lHkh fo|ky; dh Nk=k,a ,oa fofHkUu os”kHkw’kk igus fo|kFkhZ fo”ks’k vkd’kZ.k jgsA
         xzkeh.kksa }kjk txg txg iq’Ik o’kkZ }kjk Lokxr fd;k x;kA Hkkjr ekrk dh t;]oUns ekrje~]uj lsok ukjk;.k lsok ds ukjksa ls lHkh xzkeh.kksa us mRlkg dk okrkoj.k cuk fn;kA
      

xkao ds fofHkUu ekSgYykSa ls gksrs gq, “kksHkk;k=k vkn”kZ fo|k efUnj ,d lHkk esa rCnhy gks x, tgka ij Lokeh foosdkuUn thou pfj= ij fopkj O;Dr fd, x,A lHkk dks enuyky mik/;k;]jk.kqey dYyk]cynso O;kl]eksrhjke][kqek.kflag lks
      bl dk;Zdze ds lHkh ljdkjh ,oa futh fo|ky; ds lHkh fo|kfFkZ;ksa o v/;kidksa us Hkkx fy;kA
fd”kuyky jkBh]izseflag lks
dk;Zdze dk lapkyu Hkh[k Hkkjrh xksLokeh us fd;kA



çÙ·¤æÜè àææðÖæØæ˜ææ ß Sßæ×è Áè ·ð¤ ÁèßÙ ÂÚU ÇUæÜæ Âý·¤æàæ


ÂÚUÕÌâÚU ·¤SÕð ×ð´ Sßæ×è çßßð·¤æÙ‹Î âæŠæü àæÌè â×æÚUæðãU ¥æØæðÁÙ âç×çÌ ·ð¤ mUæÚUæ Sßæ×è çßßð·¤æóæÎ ·ð¤ 150 ßè ÁØç‹Ì ·ð¤ ©UÂÜÿØ ÂÚU àææðÖæØæ˜ææ çÙ·¤æÜè »§üU àææðÖæØæ˜ææ Õâ´Ì ßæçÅU·¤æ Õæ»ÇUæ çÙÇU× ·ð¤ Âæâ âð àæéM¤ ãUæð·¤ÚU, »‡æðàæ ·¤æòÜæðÙè, àØæ× ·¤æòÜæðÙè, ç΄è ÎÚUßæÁæ, ÚUæ‡æè ÕæÁæÚU, âÎÚU ÕæÁæÚU, Õ‹ÁæÚUæ ÕSÌè, Õâ SÅðU‡ÇU ¥æñÚU »æ´Šæè ¿æñ·¤ ÂÚU çßâüÁÙ ç·¤Øæ »Øæ àææðÖæØæ˜ææ ·¤è àæéM¤¥æÌ ×ð´ °ÇUßæð·ð¤ÅU çßÙæðÎ Õæ»ÇUæ Ùð Sßæ×è çßßð·¤æÙ‹Î ·ð¤ ÁèßÙ ÂÚU Âý·¤æàæ ÇUæÜæ ß ©UÙ·¤è ÁèßÙè ·¤æ ÂçÚU¿Ø ©UÂçSÍÌ ŸæëÌæ¥æð ß ·¤æØü·¤Ìæü¥æð ·¤æð çÎØæ àææðÖæØæ˜ææ ×ð´ ¥ç¹Ü ÖæÚUÌèØ çߊææÍèü ÂçÚUáÎ÷, ÁèçÙØâ çߊææÜØ, ÙðàæÙÜ ç¿ËÇUþ‹â ç߃ææÜØ, çߊææ ÖæÚUÌè ·ð¤ çߊææÍèüØæð âçãUÌ çßßð·¤æÙ‹Î âæŠæü àæÌè â×æÚUæðãU ¥æØæðÁÙ âç×çÌ ·ð¤ ·¤æØü·¤Ìæü ©UÂçSÍÌ ÚUãðU






विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित