शनिवार, 6 फ़रवरी 2010

पेड़ पर चढ़ गया पाकिस्तानी

घड़साना। श्रीगंगानगर सेक्टर में गुरूवार रात एक पाकिस्तानी युवक भारतीय सीमा में प्रवेशकर घड़साना क्षेत्र के 18 पी गांव तक पहुंच गया। ग्रामीणों ने उसे दबोचने के लिए पीछा किया। इधर-उधर खेतों में तलाश करने के बाद वह एक पेड़ पर छिपा मिला, जिसे बाद में पुलिस के सुपुर्द कर दिया।

घड़साना थाने से मिली जानकारी अनुसार पाकिस्तान के फोर्टअब्बास तहसील के गांव पक्का मुरब्बा निवासी अहसान अली (18) पुत्र नजीर शेख को घड़साना क्षेत्र के गांव 18 पी के पास पकड़ा। पूछताछ में बताया कि वह अन्तरराष्ट्रीय सीमा पर सीमा सुरक्षा बल की चित्रकुट व शेरपुरा पोस्ट के बीच तारबंदी को पार कर पाकिस्तान से भारतीय सीमा में घुसा। रात करीब 10 बजे 18 पी गांव के पास पहुंचा तो ग्रामीणों ने उसे पहचान लिया। बचने के लिए वह खेतों की तरफ भाग गया। ग्रामीणों ने उसका पीछा किया और खेतों में खड़ी फसलों के बीच उसकी तलाश शुरू की। इस दौरान वह एक पेड़ पर बैठा मिला। ग्रामीणों ने उसे पकड़कर पुलिस को सूचना दी। शुक्रवार सुबह सीमा सुरक्षा बल के अधिकारी पुलिस थाने पहुंचे और घुसपैठिए से पूछताछ शुरू की। तलाशी के दौरान उससे कोई आपत्तिजनक सामग्री बरामद नहीं हुई।

ग्रामीणों ने दिखाई सजगता
गांव 18 पी के खेतों में पकड़ा गया घुसपैठिया किसी हालत में नहीं पकड़ा जाता, यदि सीमा पर बसे ग्रामीण सजग नहीं होते। जैस ही उसने ग्रामीणों से अनजान भाषा में कुछ पूछा, उन्हें शक हो गया और उसका पीछा करने लगे। इस दौरान देवीदत नामक युवक ने घुसपैठिया होने का संदेह जताते हुए उसे पकड़ने की आवाज दी। इसी दौरान बचाव के लिए घुसपैठिया रोही की ओर भाग गया। ग्रामीणों ने तीन घंटे तक उसकी तलाश जारी रखी और अन्त में कामयाब हुए। ग्रामीणों की सजगता पर सीमाजन कल्याण समिति के सचिव सुनील सोनी ने उन्हें सम्मानित करने की घोषणा की है।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित