बुधवार, 31 मार्च 2010

संघ को IT पेशेवरों ने दी मुस्कान

नई दिल्ली। संघ की शाखाओं के लगातार गिरते ग्राफ को दुरुस्त करने में आईटी प्रोफेशनलों ने अहम भूमिका निभाई है। इसलिए संघ के कर्ताधर्ता अब अपना पूरा ध्यान इसी सेक्टर पर केंद्रित करने जा रहे हैं। आईटी प्रोफेशनलों को संघ से जोड़ने के काम में जिन लोगों को आधिकारिक व गैर-आधिकरिक रूप से लगाया गया था उनमें संघ की कार्यकारिणी के सदस्य राम माधव प्रमुख हैं। सूत्रों ने बताया कि उनका साथ देने वाले कुछ ऐसे दिलचस्प नाम भी हैं जिनका संघ से जुड़ाव औपचारिक नहीं है। इनमें खुफिया ब्यूरो के पूर्व प्रमुख अजीत डोभाल के बेटे शौर्य डोभाल और चुनाव विश्लेषक जीवीएल नरसिम्ह राव के नाम प्रमुख हैं। भावी योजनाओं में दिलचस्प बात यह रहेगी कि इन्हीं प्रोफेशनलों से कहा जाएगा कि वे संघ को नई पीढ़ी में लोकप्रिय बनाने के नुस्खे सुझाएं। कुरूक्षेत्र में संपन्न संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की बैठक में पहली बार आईटी व दूसरे क्षेत्र के प्रोफेशनलों पर एक अलग सत्र आयोजित किया गया। वजह यह थी कि जहां आम शाखाओं की संख्या में मामूली कमी आई है वहीं आईटी क्षेत्र व प्रबंधन के प्रोफेशनलों का जुड़ाव संघ की विचारधारा से बढ़ा है। राम माधव ने भास्कर से बातचीत के दौरान कहा कि पिछली पीढ़ी के मुकाबले नए प्रोफेशनलों के विचार संघ की विचारधारा के ज्यादा करीब हैं। संघ फिलहाल 15 प्रमुख शहरों में आईटी मिलन अभियान चला रहा है और इनमें प्रोफेशनल खुलकर हिस्सा ले रहे हैं। इस वर्ग को आकर्षित करने के लिए ऑनलाइन शाखाएं पहले से ही चल रही हैं। - स्मिता मिश्रा
स्त्रोत : http://www.bhaskar.com/2010/03/31/it-professionals.html

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित