गुरुवार, 30 जुलाई 2009

ब्रम्होस का सफल परीक्षण


जैसलमेर. पोकरण फील्ड फायरिंग रेंज में बुधवार को सेना में शामिल करने के लिए अत्याधुनिक मिसाइल ब्रम्होस के दूसरे वर्जन का सफल परीक्षण किया गया। जमीन से जमीन पर मार करने वाली सुपर सोनिक मिसाइल ब्रम्होस का यह चौथा परीक्षण है। परीक्षण चांधन फील्ड फायरिंग रेंज में बुधवार सुबह सवा नौ बजे किया गया।

इस अवसर पर डीआरडीओ, सेना के उच्च अधिकारी व विशेषज्ञ उपस्थित थे। लॉचिंग स्टेशन से मोबाइल ऑटोमेटिक लांचर से ब्रम्होस के द्वितीय वर्जन का टेस्ट फायर हुआ। तेज धमाके के साथ मिसाइल ने अपने टारगेट पाइंट अजासर गांव के पास जाकर हिट किया। परीक्षण सफल होने पर सेना की आर्टलरी के निदेशक लेफ्टिनेंट जनरल के.आर.राव के और डीआरडीओं अधिकारियों व विशेषज्ञों ने एक दूसरे को बधाई दी।

दुश्मन पर भारी पड़ेगी मिसाइल : ब्रम्होस मिसाइल का दूसरा वर्जन सेना के विशेषज्ञों के सुझाव के आधार पर तीन परीक्षण में रही खामियों को दूर करते हुए तैयार किया गया है। 25 किलोमीटर से 300 किलोमीटर तक जमीन से जमीन और जमीन से हवा में वार किया जा सकता है। इस मिसाइल का निशाना अचूक है।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित