शुक्रवार, 24 जुलाई 2009

शहीदों को कभी भुलाया नहीं जाएगा

बालोतरा। शहीदों के त्याग व बलिदान से ही देशवासी आज खुली सांस ले रहे हैं। शहीदों के त्याग को कभी भी भुलाया नहीं जाएगा। युवा शहीदों के जीवन से प्रेरणा लेकर देश व समाज के विकास में अपना योगदान दें। पुलिस उप अधीक्षक जस्साराम बोस ने गुरूवार को शहीद चंद्रशेखर आजाद की जयन्ती पर आजाद नवयुवक मंडल के तत्वावधान मे आयोजित राष्ट्रीय जागरण रैली समारोह को संबोघित करते हुए यह बात कही।

बोस ने कहा कि क्रांतिकारियों के प्रयासों से ही देश को गुलामी से मुक्ति मिली थी। समाजसेवी ओम बांठिया व नगर कांग्रेस सेवादल अध्यक्ष गोपाल चंदेल ने कहा कि वैचारिक राष्ट्रवाद के स्तर पर यह संगठन कई वर्षो से कार्यरत है। मंडल के अध्यक्ष क्षेत्रपालगिरी गोस्वामी ने भी विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम के शुभारंभ से पूर्व महाभारती की वंदना की गई। अतिथियों ने चंद्रशेखर आजाद के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर माल्यार्पण किया।

मंडल प्रवक्ता नवरतन कड़वासरा ने बताया कि इसके पpात शहीद भगतसिंह सभा स्थल से नगर के सरकारी व गैर सरकारी विद्यालयों के विद्यार्थियो की रैली निकाली गई, जो शहर के मुख्य मार्गो से गुजरती हुई सभा स्थल पहुंचकर विसर्जित हुई। इसी तरह अग्रसेन विद्या मंदिर मे बाल गंगाधर तिलक व चंद्रशेखर आजाद की जयंती मनाई गई। कार्यक्रम के प्रारंभ में संस्था प्रधान डूंगरचंद भाटिया ने इन क्रांतिकारियों के चित्रों पर माल्यार्पण किया। छात्राओं ने इन शहीदों के जीवन कार्यो पर प्रकाश डाला।

बाड़मेर। बाल गंगाधर तिलक व चंद्रशेखर आजाद की जयंती पर भास्कर पब्लिक स्कूल में एक कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें उन्हें याद किया गया। साहित्यकार उमर फारूक गौरी ने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे इन महापुरूषों के जीवन से प्रेरणा लें।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित