शनिवार, 30 अक्तूबर 2010

सरल भाषा में संस्कृत बोलने का कराया अभ्यास

सरल भाषा में संस्कृत बोलने का कराया अभ्यास
पाली।29-10-10. संस्कृत भारती के तत्वावधान में पाली नगर में गुरुवार से संस्कृत संभाषण शिविर प्रारंभ हुआ। शिविर व्यवस्थापक देवरतन ने बताया कि सिंधी कॉलोनी स्थित गणेश शिशु मंदिर में पाली का पहला शिविर दुर्गादत्त शर्मा के मुख्य आतिथ्य में शुरू हुआ। शिविर का आगाज़ मां सरस्वती तथा भारत माता के समक्ष दीप प्रज्जवलन व सरस्वती वंदना के साथ हुआ। पाली नगर में आयोजित होने वाले पांच दिवसीय शिविर के प्रथम दिन प्रशिक्षक विक्रम शर्मा ने सरल भाषा में संस्कृत बोलने का अभ्यास कराया। प्रशिक्षण के पूर्व संस्कृत को कठिन समझने वाले छात्र व अध्यापक सहज ही संभाषण का अभ्यास करने लगे। अपने प्रथम दिन का अनुभव बताते हुए मुख्य अतिथि ने कहा कि यहां आने से पूर्व मन में अत्यधिक भय था, किंतु थोड़े से अभ्यास के बाद ही मैं यदि अपना परिचय संस्कृत के माध्यम से दे पा रहा हूं तो यह तो निश्चित है कि संस्कृत कठिन नहीं सरल ही है। प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे वैभव, भूपेश, पंकज आदि छात्र भी सहजता के साथ संस्कृत बोलते दिखाई दिए। प्रशिक्षक शर्मा ने बताया कि प्रांतीय योजना से आयोजित प्रतिदिन दो घंटे के इस प्रशिक्षण वर्ग में जन सामान्य भी भाग ले सकता है।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित