बुधवार, 27 अक्तूबर 2010

पथ संचलन का पुष्प वर्षा से स्वागत

पथ संचलन का पुष्प वर्षा से स्वागत
मथानिया (जोधपुर) । राष्टीय स्वयंसेवक संघ के तत्वावधान में निकाले गये विशाल पथ संचलन का मथानिया वासियों ने पुष्प वर्षा से जोरदार स्वागत किया। संघ के तहसील कार्यवाहक रतनाराम चौधरी ने बताया कि आदर्श विद्या मन्दिर माध्यमिक विद्याल से सैकड़ों स्वयंसेवक गणवेश में घोष के साथ पथ संचलन के लिए रवाना हुए। घोष की धुन के साथ कदम से कदम मिलाते हुए यह पथ संचलन अटाली चक्कली, सेठाराम चौराए, बड़ावास रामदेव मंदिर जलावाला बास मुख्य बस स्टेशन, हरी ओम मार्केट, शिवमंदिर वर्धमान नगर से राधा कृष्ण मन्दिर होता हुआ बालिका आदर्श के विद्यालय पहुंचा। इस पथ यंचलन का ग्रामीण महिलाओं, युवकों, पुरूषों, व्यापारियों, प्रबुद्ध नागरिकों ने कदम-कदम पर पुष्प वर्षा करके स्वागत किया। इस दौरान पुलिस की माकुल व्यवस्था थी। पथ संचलन के बाद विद्या मन्दिर प्रांगण मे धर्मसभा का आयोजन हुआ। इसमें समारोह के मुख्य वन्ता संघ के प्रांत प्रचारक विजय कुमार अध्यक्षता कर रहे समाजसेवी व पूर्व सरपंच भैसेर कोटवाली मानाराम हुडा, जिला संघ संचालक किशन गहलोत ने धरती माता हेडगेवार के चित्रों पर दीप प्रज्जवलित करके शस्त्र पूजन की रस्म अदा की।
इस धर्म सभा को सम्बोधित करते संघ प्रान्त प्रचारक विजय कुमार ने कहा कि भारत धर्म की धरती है। भारतीयों ने हमेशा विश्व कल्याण की बात कही है। यहा के लोगों का जीवन आस्था व श्रद्धा के साथ शुरू होता है। लेकिन दुनिया के कई देश भारत में आंतकवाद व अन्य गतिविधियों को बढ़ावा दे रहे है। जो घिनौनकृत है। उन्होंने कहा कि भारत के पास विकसित राष्टÑ की श्रेणी के जमीन, जन संख्या, धन, ताकत व बुद्धि पांचों वस्तुएं है। हमें राष्टभक्त होना चाहिए। संघ हिन्दुत्व व राष्टपे्रम को बढावा देता है। लेकिन कुछ स्वार्थी लोग संघ पर भी भगवा आतंकवाद व अजमेर दरगाह बम मामले झुठे व षडयंत्र रच रहे। समारोह की अध्यक्षता करते पूर्व सरपंच मानाराम हुडा ने कहा कि हमें राष्टहित को सर्वापरि रखना चाहिए। संघ के सेवक के कार्यों की प्रशंसा करते हुए आम आदमी को राष्टहित के कार्यों की प्रेरणा लेना चाहिए। इस समारोह में मथानिया, तिंवरी, ओसियां, नेवरा, बालख, रामपुरा व बिजवाणियां समेत 25 गांवों के स्वयंसेवक ने भाग लिया।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित