गुरुवार, 14 जनवरी 2010

परम पूजनीय सरसंघचालक मोहन जी भागवत ने किया सेवाधाम छात्रावास का अवलोकन

भोजनालय का अवलोकन करते हुए परम पूजनीय सरसंघचालक मोहन जी भागवत
छात्रों को उधबोधन देते हुए

दीप प्रजव्लन करते हुए परम पूजनीय सरसंघचालक माननीय मोहन जी भागवत


जोधपुर १४ जनवरी २०१०। राष्ट्रीय स्वयमसेवक संघ के सरसंघचालक माननीय मोहन जी भागवत ने सेवा भारती समिति जोधपुर द्वारा संचालित सेवाधाम छात्रावास का अवलोकन किया।
कार्यक्रम की शुरुआत माँ भारती, माँ सरस्वती तथा ॐ के चित्रों पर परम पूजनीय सरसंघचालक मोहन जी भागवत ने माल्यार्पण किया।
छात्रों ने दीप मंत्र, वेदा मंत्र, गायत्री मंत्र तथा संघटन मंत्र का पाठ किया। इसके पश्चात काव्य गीत का पठन भाई सुराराम के साथ सभी बालको ने किया।
सेवाधाम के इस कार्यक्रम में परम पूजनीय सरसंघचालक मोहन जी भागवत ने छात्रों को उधोबोधित करते हुए कहा किशिक्ष के साथ साथ संस्कार, विवेक एवं राष्ट्र निष्ठा कि आज महती आवश्यकता है। कई प्रेरक कहानियों के माध्यम से उन्होंने छात्रों को समाज, राष्ट्र के लिए कार्य करने कि प्रेरणा दी। माननीय भागवत जी ने छात्रों के मंगल भविष्य की कामना की.
सेवाधाम में पधारने पर सेवा भारती के क्षेत्रीय अध्यक्ष श्रीकिशन गहलोत, समिति के प्रान्त मंत्री गोविन्द खेतावत, प्रान्त कोषाध्यक्ष एवं महानगर मंत्री अशोक अग्रवाल, महानगर अध्यक्ष नागराज मेहता एवं अन्य पदाधिकरिगन उपस्थित थे।
प्रान्त मंत्री गोविन्द खेतावत ने सेवा भारती के कार्यो की जानकारी एवम महानगर मंत्री ने सेवाधाम की विस्तृत जानकारी सरसंघचालक जी को दी।
परम पूजनीय सरसंघचालक माननीय मोहन जी भागवत ने छात्रावास को पूर्ण रूप से देखा यहाँ तक की छात्रावास के भोजनालय में भोजन व्यवस्था को भी बारीकी से देखा। परम पूजनीय सरसंघचालक जी ने छात्रावास में ही छात्रों के साथ अल्पाहार भी लिया।
माननीय मोहन जी भागवत सेवाधाम के इस छात्रावास तथा इसकी व्यवस्थाओ को देख केर गदगद हुए।
कल्याण मंत्र के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित