सोमवार, 3 अप्रैल 2017

पाथेय कण हमें मनो से जोड़ रहा है और यह एक सामाजिक क्रान्ति का अग्रदुत है - जसवन्त जी खत्री

पाथेय कण हमें मनो से जोड़ रहा है और यह एक सामाजिक क्रान्ति का अग्रदुत है - जसवन्त जी खत्री
पाथेय कण पाठक सम्मेलन सम्पन्न , डाक मित्रों को किया सम्मानित

स्मृति चिन्ह व पाथेय विशेषांक की प्रति दी

बीकानेर 02 अप्रेल 2017 . राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचार विभाग, बीकानेर महानगर के द्वारा  खेलकूद विभाग, राजकीय पोलिटेक्निक महाविद्यालय बीकानेर में पाथेय कण पाठक सम्मेलन एवं डाक मित्र सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

सम्मान समारोह राजस्थान क्षेत्र के क्षेत्रीय सम्पर्क प्रमुख श्रीमान् जसवन्त जी खत्री के सानिध्य में आयोजित किया गया। उक्त कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमान् जी.एन. कनवाड़िया, डाक अधीक्षक, मुख्य डाकघर बीकानेर ने की। उक्त कार्यक्रम में श्री देवाराम गोदारा, प्राचार्य, राजकीय पोलिटेक्निक महाविद्यालय बीकानेर का भी सानिध्य प्राप्त हुआ।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के राजस्थान क्षेत्र के क्षेत्रीय सम्पर्क प्रमुख श्रीमान् जसवन्त जी खत्री ने कहा कि पाथेय कण एक परिवार के सदस्य के रूप में अपना स्थान बना चुकी है। पाथेय कण हमें मनो से जोड़ रहा है और यह एक सामाजिक क्रान्ति का अग्रदुत है। पाथेय कण द्वारा हमें सम्पूर्ण विश्व की गरिमामय जानकारी बखुबी प्राप्त हो रही है।

श्रीमान् जी.एन. कनवाड़िया, द्वारा प्रचार विभाग द्वारा डाक मित्रों को दिये गये सम्मान के लिए विभाग के उक्त कार्य की भरीभूरी प्रश्ांसा की गई।  

उक्त कार्यक्रम में बीकानेर के प्रचार प्रमुखों द्वारा डाक मित्र श्री धनश्याम दास सुथार, श्री विष्णुदत्त श्रीमाली, श्री सीताराम साध आदि का माल्यार्पण कर स्मृति चिन्ह के साथ पाथेय कण की प्रति देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर श्री सुरेन्द्र सिंह जी (गार्ड साहब), श्री उमेश भाटी, श्रीमती अनामिका श्रीमाली, श्री बाबुलाल जी एवं     श्री विवेक सक्सेना ने अपने विचार रखे। प्रचार विभाग, बीकानेर की ओर से विभाग प्रचार प्रमुख श्रीमान् एस. एल. राठी जी ने सभी आगुन्तकों का आभार व्यक्त किया व मंच का संचालन किया।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित