गुरुवार, 24 दिसंबर 2015

समाज में सकारात्मक परिवर्तन के लिए शाखा विस्तार आवश्यक – दत्तात्रेय जी होसबले

समाज में सकारात्मक परिवर्तन के लिए शाखा विस्तार आवश्यक – दत्तात्रेय जी होसबले

Dattatray-Hosabale-lदेवरिया (गोरक्ष प्रांत). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह दत्तात्रेय होसबले जी ने कहा कि समाज में सकारात्मक परिवर्तन के लिये शाखा विस्तार आवश्यक है. जिसके लिये स्वयंसेवक सर्वस्पर्शी बनें. सह सरकार्यवाह जी नर्वदेश्वर सरस्वती शिशु मंदिर में गोरक्ष प्रांत के नगरीय क्षेत्रों के पदाधिकारियों को संबोधित कर रहे थे. पांच दिवसीय बैठक के अंतिम दिन (सोमवार, 21 दिसंबर) कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. इससे पहले संबंधित कार्यकर्ताओं ने बैठक में वृत निवेदन (वर्तमान कार्य स्थिति की जानकारी) किया.

उन्होंने कहा कि स्वयंसेवकों को समाज के सभी वर्गों के संपर्क में रहकर उनका हित चिंतन करना चाहिये. स्वयंसेवक का व्यवहार ऐसा होना चाहिये कि हर व्यक्ति उससे जुड़े. उन्होंने कहा कि शाखा ही संगठन की आत्मा है, इसलिए शाखा विस्तार का कार्य ही संगठन की मजबूती का आधार है. सह सरकार्यवाह जी ने नगरीय क्षेत्रों में संचालित गतिविधियों, शाखा कार्य को हर बस्ती, हर परिवार में ले जाने का आह्वान किया. बैठक में नगरीय क्षेत्र की ईकाइयों के संघचालक, कार्यवाह, विस्तारक, प्रचारक उपस्थित थे.

  साभार: vskbharat.com

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित