गुरुवार, 8 अक्तूबर 2015

गोरज संकलन महोत्सव की पूर्व तैयारी हेतू वरिष्ठ स्वयंसेवक संगम तथा प्रशिक्षण वर्ग सम्पन्न

 गोरज संकलन महोत्सव की पूर्व तैयारी हेतू  वरिष्ठ  स्वयंसेवक संगम तथा प्रशिक्षण  वर्ग  सम्पन्न









जालोर।  गोरज संकलन महोत्सव की पूर्व तैयारी हेतू जालोर विभाग का वरिष्ठ  स्वयंसेवक संगम तथा प्रशिक्षण  वर्ग नन्दगाँव(केशुआ) में 3-4 अक्टूबर में सम्पन्न हुआ। 

कार्यक्रम के प्रारंभ में सैकड़ों स्वयं सेवकों ने सप्त संवत्स गोमाताओं तथा एक वंशभ भगवान का वैदिक नीति से पूजन किया।

 जोधपुर प्रान्त प्रचारक श्री मुरलीधर ने इस कार्यक्रम की आगामी रुपरेखा तथा इस कार्यक्रम के समाज पर होने वाले प्रभाव पर प्रकाश  डाला . 

श्री पथमेडा गोधाम महातीर्थ द्वारा आयोजित गो कृपा महोत्सव तथा गोसुरभि पीठ की स्थापनार्थ आगामी 12 नवम्बर गोवर्धन पूजा से 19 नवम्बर गोपाश्टमी तक सम्पन्न होने वाले गोरज संकलन महोत्सव की पूर्व तैयारी एवं इसके निमित्त गाँव गाँव में होने वाले गो पूजन के लिए राष्ट्रीय  स्वयंसेवक संघ, जालोर विभाग के 1280 स्वयंसेवकों का
प्रशिक्षण नन्दगाँव(रेवदर) में सम्पन्न हुआ

3.4 अक्टूबर को सम्पन्न हुए इस दो दिवसीय संगम में विभिन्न सत्रों के माध्यम से प्रत्येक ग्राम में समितियाँ बनाना, पूजन सम्पन्न करवाना, गो ग्रास व गोरज संकलन करने का
प्रशिक्षण दिया गया . 

उदघाटन सत्र में परम गोवत्स पू् राधा कृष्ण जी महाराज ने  गो सेवा की महिमा बताते हुए वर्तमान समय में इसके लिए हो रहे प्रयत्न तथा हमारी भूमिका पर विस्तार से बताया। 




समापन सत्र को गोधाम महातीर्थ पथमेडा  के पू दत्तषरणानन्द जी महाराज ने सम्बोधित किया तथा इस गो सुरभि पीठ की स्थापना को विष्व की धरती के लिए अद्वितीय बताया। 


इस संगम में सिरोही, जालोर तथा भीनमाल जिले की 17 इकाइयों के 1280 कार्यकत्र्ता तथा 40 प्रबंधकों ने भाग लिया

 


विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित