सोमवार, 11 मई 2015

स्वदेशी देश की मजबूरी नहीं मजबुती है - कश्मीरी लाल

स्वदेशी देश की मजबूरी नहीं मजबुती है -  कश्मीरी लाल


जोधपुर १० मई २०१५।  स्वदेशी जागरण मंच जोधपुर प्रांत द्वारा दी स्टेनलेस स्टील रीरोलर्स एसोसिएशन सभागार, शास्त्री सर्कल के पास व्याख्यानमाला आयोजित की गई जिसका विषय "वर्तमान आर्थिक परिदृष्य स्वदेशी ही एकमात्र विकल्प" था।

 इस विषय पर मुख्य वक्ता माननीय कश्मीरी लाल राष्ट्रीय संगठक स्वदेशी जागरण मंच ने बताया कि आज स्वदेशी द्वारा ही देश को विदेशी ताकतो के प्रभाव से बचाया जा सकता है। स्वदेशी देश की मजबूरी नहीं मजबुती है। स्वदेशी जागरण मंच ही ऐसी संस्था है जो देश हित में सोचती व समझती है। यह कोई सामान नहीं बेचती केवल स्वदेशी वस्तु विचारधारा, संस्कृति, बोलचाल को बढावा देती है।

विशिष्ट अतिथि अरूण कुमार मिश्रा, निदेशक काजरी ने बताया कि हिन्दुस्तान की संस्कृति कृषि है व कृषि द्वारा ही देश को बचाया जा सकता है।

 कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे वरूण आर्य प्रबन्धक अरावली प्रबंधन संस्थान ने बताया कि स्वदेशी विषय इनके दिल के नजदीक है। स्वदेशी के कारण ही भारत वर्ष को पहले सोने की चिडि़या कहा जाता था। इसको फिर से सोने की चिडि़या बनाने के लिए हमें स्वदेशी अपनाना ही पड़ेगा।

 इस कार्यक्रम में स्वदेशी जागरण मंच जोधपुर द्वारा स्वदेशी संवर्धन पेजेज के पोस्टर का विमोचन माननीय कश्मीरी लालजी द्वारा किया गया। इसे येलो पेज की भांति जोधपुर के सारे उत्पादित वस्तुएं सेवाये तकनीक आदि की डायरेक्ट्री बनायी जायेगी व इसे गुगल पर भी डाला जायेगा। इसके प्रभारी अतुल भंसाली व रोहिताष पटेल होगे।

इस कार्यक्रम में स्वदेशी जागरण मंच जोधपुर की नई कार्यकारिणी की घोषणा धर्मेन्द्र दुबे राजस्थान सह-संयोजक द्वारा की गई। जिसमें स्वदेशी जागरण मंच जोधपुर विभाग संयोजक अनिल वर्मा, विभाग सह-संयोजक महेश जांगिड़, विनोद मेहरा व निलेश तिवारी होगे। विभाग कोष प्रमुख मनीष चाण्डक विभाग संघर्ष वाहिनी प्रमुख जितेन्द्र सिंह सिणली, जिला सह संयोजक मनोहर सिंह चारण, जोापुर महानगर संयोजक अनिल माहेश्वरी व सहसंयोजक अशोक सिंह राजपुरोहित होगे। विचार मण्डल प्रमुख मिथिलेश कुमार झा व सह विचार मण्डल प्रमुख जयन्त माथुर, महानगर महिला प्रमुख रामेश्वरी पटेल होगी।

सम्पर्क प्रमुख जितेन्द्र मेहरा, प्रचार प्रमुख रोहिताष पटेल, संघर्ष वाहिनी प्रमुख ओमप्रकार भाटी, व्यवस्था प्रमुख अशोक वैष्णव, कार्यालय प्रमुख सतेन्द्र कुमार, योग प्रमुख गजेन्द्र परिहार, त्ज्प् प्रमुख राजेन्द्र मेहरा व सहप्रमुख प्रबोध कुमार के पास दायित्व रहेगा।    व्याख्यानमाला के मंच का संचालन गजेन्द्र परिहार ने किया  व धन्यवाद धर्मेन्द्र दुबे ने दिया।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित