शनिवार, 16 मई 2015

अमेरिका : सात वर्षों में दुगनी हुई हिंदुओं की जनसंख्या'





वॉशिंग्टन, मई 14 : अमेरिका की कुल जनसंख्या में बदलते समीकरण पर अध्ययन करते हुए प्रसिद्ध 'प्यु अनुसंधान केंद्र' ने एक रिपोर्ट जारी करते हुए कहा है कि अमेरिका में हिंदुओं की जनसंख्या 20 लाख के पार हो गई है। यहाँ उल्लेखनीय है कि हिंदुओं की जनसंख्या में वर्ष 2007 से अब तक लगभग दस लाख यानि करीब 85.8% का इजाफा हुआ है। इसके पीछे एक मुख्य कारण है अमेरिका में भारतीय विशेषज्ञ एवं कामगारों की मांग लगातार बढ़ना।




अमेरिका की कुल जनसंख्या में हिंदुओं का अनुपात 2007 के 0.4% से बढ़कर पिछले साल 0.7% तक पहुँच गया है। मंगलवार को प्रकाशित हुए इस अध्ययन रिपोर्ट का नाम है "अमेरिका'ज़ चेंजिंग रिलीजियस लैंडस्केप"।

हालांकि, इस अध्ययन में यह भी बताया गया है कि अमेरिका अब भी किसी भी देश के मुक़ाबले सबसे अधिक इसाइयों का घर है लेकिन 2007 में जहां अमेरिका में इसाइयों की जनसंख्या 78.4% थी वहीं अब उनकी तादाद घटकर 2014 में सिर्फ 70.6% रह चुकी है।

अमेरिका में मुसलमानों की जनसंख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। वहाँ 2007 में मुसलमानों का अनुपात 0.4% था परंतु अब वहाँ उनका अनुपात बढ़कर 0.9% हो गया है।

इस अध्ययन में और एक तथ्य जो गौर करने लायक है वाहयाह कि अमेरिका में सबसे पढे लिखे और शिक्षित आप्रवासियों में हिंदुओं और यहूदियों की तादाद सबसे अधिक है। वर्ष 2050 के आते आते अमेरिका के जनसंख्या में हिंदुओं का अनुपात 1.2% तक हो जाएगा जिसके बाद वहाँ पर हिन्दू धर्म को मानने वाले लोगों की कुल जनसंख्या बढ़कर 4ओ लाख से अधिक हो जाएगी।

सर्वे के दौरान 36% हिंदुओं ने बताया कि उनके परिवार की सालाना आय 1 लाख डॉलर से अधिक है। जबकि इतनी ही कमाई अमेरिका में बाकी 19 % परिवारों की ही है।

पढ़ाई के मामले में भी अमेरिकी हिन्दू बाकी लोगों से आगे हैं । जहाँ आम तौर पर अमेरिका में औसतन 27% वयस्कों के पास स्नातक (बैचलर) की डिग्री है जबकि 77% हिंदुओं के पास स्नातक (बैचलर) की डिग्री है। 48% हिन्दू वयस्क स्नातकोत्तर हैं।

साभार: न्यूज़ भारती

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित