शनिवार, 27 अप्रैल 2013

संघ गतिविधियों से अवगत हुए म.प्र. के राज्यपाल


संघ गतिविधियों से अवगत हुए म.प्र. के राज्यपाल

संघ गतिविधियों से अवगत हुए म.प्र. के राज्यपाल
माननीय राज्यपाल के साथ अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख जे. नंदकुमार, प्रांत के सम्पर्क प्रमुख के. एल. चतर एवं प्रज्ञा प्रवाह के दीपक शर्मा

भोपाल, अप्रैल 25 : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की विशेष सम्पर्क योजना के अंतर्गत संघ की गतिविधियों से अवगत कराने के लिए आज एक प्रतिनिधि मंडल ने मध्य प्रदेश के राज्यपाल रामनरेश यादव से राजभवन में मुलाकात की। इस प्रतिनिधि मंडल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सह प्रचार प्रमुख जे. नंदकुमार, प्रांत के सम्पर्क प्रमुख के. एल. चतर एवं प्रज्ञा प्रवाह के दीपक शर्मा शामिल थे।

जे. नंदकुमार ने संघ की गतिविधियों के बारे में राज्यपाल महोदय को अवगत कराया, उन्होंने हाल ही में जयपुर में सम्पन्न हुई संघ की अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा में पारित प्रस्तावों की जानकारी दी एवं उनसे आग्रह किया कि बांग्लादेश एवं पाकिस्तान में हिन्दुओं पर हो रहे अत्याचारों पर भारत सरकार का ध्यान आकर्षित कराएं और भारत सरकार से आग्रह करें कि वे पाकिस्तान से भारत में आए हिन्दू शरणार्थियों की उचित व्यवस्था करें।

संघ के द्वारा देशभर में चल रहे 1.76 लाख से अधिक सेवा प्रकल्पों के बारे में भी राज्यपाल महोदय को जानकारी दी गई, साथ ही मध्यप्रदेश में स्वामी विवेकानन्द सार्ध शती के अंतर्गत किये गए सामूहिक सूर्यनमस्कार के कार्यक्रमों एवं गृह सम्पर्क अभियान की जानकारी भी राज्यपाल को दी गई ।

राज्यपाल महोदय ने भी अपनी कन्याकुमारी स्थित विवेकानन्द शिलास्मारक और विवेकानन्द केन्द्र की यात्रा का अनुभव बताया, और कहा कि समाज को जोड़ने के जो प्रयास स्वामी विवेकानन्दजी ने किये थे आज पुनः उसे आगे ले जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि संघ सहित सभी संगठनों को इस हेतु प्रयास करने चाहिए।

दीपक शर्मा ने राज्यपाल महोदय से आग्रह किया कि वे कभी भी आपनी सुविधानुसार समय निकालकर भोपाल स्थित नवजात शिशु सेवा केंद्र ‘मातृ छाया’ ” एवं वृद्धाश्रम सेवा केंद्र ‘आनंदधाम’ ” का अवलोकन करने पधारें, जिससे संघ के सेवा कार्यों में लगे कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ेगा।

के. एल. चतर ने राज्यपाल महोदय के प्रति आभार व्यक्त किया और निवेदन किया कि भविष्य में उनकी सदभावना समाज निर्माण के कार्यों को मिलाती रहें।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित