मंगलवार, 11 सितंबर 2012

आंखों से छलकी प्रताडऩा और पलायन की पीड़ा


मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  पाक से लौटे हिन्दू बालक को दुलारते हुए 

आंखों से छलकी प्रताडऩा और पलायन की पीड़ा
आपबीती सुनाते हुए रो पड़े पाक से आए हिंदू परिवार, मुख्यमंत्री ने स्थाई समाधान के लिए प्रतिनिधिमंडल को जयपुर बुलाया
जोधपुर 10.9.2012  .मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सोमवार को जयपुर जाने के लिए एयरपोर्ट में प्रवेश कर चुके थे, मगर जब उन्हें पता चला कि उनसे मिलने पाक विस्थापित परिवार आए हैं तो वे बाहर आए और लोगों से बात की। आपबीती सुनाते हुए हिंदू परिवार रो पड़े। मुख्यमंत्री ने उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिया और कलेक्टर को निर्देश दिए कि इन परिवारों की समस्याओं का तत्काल समाधान करें। साथ ही उन्होंने राज्य और केंद्र सरकार के स्तर पर होने वाले समाधान के लिए एक प्रतिनिधिमंडल को जयपुर बुलाया है, जहां पुनर्वास, स्थाई वीजा और नागरिकता जैसे मसलों पर विस्तृत चर्चा की जाएगी। पाक में प्रताडि़त 171 लोग रविवार सुबह थार एक्सप्रेस से जोधपुर पहुंचे थे। सोमवार सुबह सीमांत लोक संगठन के अध्यक्ष हिंदूसिंह सोढ़ा के साथ कुछ परिवार मुख्यमंत्री से मिलने एयरपोर्ट पहुंचे। महिलाओं व बच्चों को लेकर पहुंचे इन परिवारों ने मुख्यमंत्री को आपबीती सुनाते हुए भारत में स्थाई निवास की व्यवस्था करने की गुहार की। मुख्यमंत्री ने वहीं मौजूद कलेक्टर सिद्धार्थ महाजन को निर्देश दिए कि इन लोगों के अस्थाई रहवास के प्रबंध किए जाएं। उन्होंने आश्वस्त किया कि राज्य सरकार पाक विस्थापितों के पुनर्वास के लिए केंद्र सरकार से बात करेगी।

धार्मिक उत्पीडऩ नहीं झेल पाए तो पलायन कर गए

इन लोगों ने मुख्यमंत्री को बताया कि पाकिस्तान में उनके जबरन धर्म परिवर्तन की कोशिश की जाती है। उनके पास न तो जमीन है और न ही खुद का धंधा। बंधुआ मजदूर की तरह इतने सालों तक काम कर लिया, मगर अब धार्मिक उत्पीडऩ बर्दाश्त नहीं होता। वहां रहते तो धर्म परिवर्तन करना पड़ता। देश तो छूट चुका था, परंतु धर्म नहीं छोडऩा चाहते थे इसलिए भारत आए हैं।
source: http://epaper.bhaskar.com/jodhpur/17/11092012/0/1/

पुनर्वास के लिए केन्द्र से करेंगे बात
 
जोधपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य सरकार पाक विस्थापितों की अपने स्तर पर हरसंभव सहायता और पुनर्वास के लिए भारत सरकार से भी बात करेगी। मुख्यमंत्री सोमवार सुबह हवाई अड्डे पर पाक विस्थापितों के दल से बात कर रहे थे। इस बीच नगर निगम ने विस्थापितों के ठहरने की व्यवस्था कर दी है।

सीमांत लोक संगठन के अध्यक्ष हिन्दू सिंह सोढ़ा 171 पाक विस्थापितों के साथ गहलोत से मिलने पहुंचे। गहलोत ने इस मामले में जिला कलक्टर को कार्रवाई के निर्देश दिए। साथ ही सोढ़ा से कहा कि वे जयपुर आकर इस मामले में चर्चा करें। केन्द्र को भी इस मामले में मदद के लिए लिखा जाएगा। बाद में निगम व समाज कल्याण विभाग के अधिकारी भी जायजा लेने डाली बाई मंदिर पहुंचे।

नगर निगम ने की ठहरने की व्यवस्था : निगम सीईओ रामजीवन मीणा ने बताया कि कबीर नगर के रैन बसेरे व मगरा पूंजला के नशा मुक्ति केन्द्र में सभी पाक विस्थापितों के ठहरने की व्यवस्था की गई है। दो दिन के भोजन की व्यवस्था की जिम्मेदारी हिन्दू सेवा मंडल ने ली है।

source: http://www.patrika.com/news.aspx?id=897194

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित