रविवार, 15 मई 2011

मा. कृष्ण चन्द्र जी भार्गव [भय्या जी ] की देह पंचतत्व में विलीन

जोधपुर १५ मई २०११. संघ के वरिष्ट प्रचारक मा. कृष्ण चन्द्र जी भार्गव [भय्या जी ] का कल 14 May, 2011 रात्रि को 8-45 पर स्वर्गवास हो गया था. माननीय किशन जी भैय्या की शव यात्रा आज प्रात 10-30 डा. हेडगवार भवन [संघ कार्यालय] से सिवांची गेट स्थित स्वर्गाश्रम को अन्तेय्ष्टि हेतु प्रारंभ हुई .शव यात्रा में १००० से भी अधिक की संख्या में स्वयंसेवक तथा शहर के गणमान्य नागरिको, राजनेताओ तथा संघ के कई प्रचारक सम्मलित हुए. "तेरा वैभव अमर रहे माँ, हम दिन चार रहे न रहे ", श्री राम जय राम , राधे कृषण, भारत माता की जय हो जैसे उदघोष के मध्य शव यात्रा ने भय्या जी की अंतिम यात्रा के लिए प्रस्थान किया.

डा. हेडगेवार भवन में तो रात्रि से ही स्वयंसेवको का आने का क्रम जारी था. हर कोई भय्या जी के अंतिम दर्शन को आतुर था. प्रात: ९.०० से १०.२५ तक अंतिम दर्शन का सिलसिला चलता रहा. १०:३० पर शवयात्रा प्रारंभ होकर सिवांची गेट स्थित सिन्धी स्वर्गाश्रम पहुची. शवयात्रा में मान. सुरेश जी, अखिल भारतीय सह प्रचारक प्रमुख, मान. दुर्गादास जी, क्षेत्रीय प्रचारक राजस्थान, राजेंद्र जी, क्षेत्रीय संपर्क प्रमुख, प्रकाश चन्द्र जी, सह क्षेत्रीय संपर्क प्रमुख, मान. नन्द लाल जी "बाबाजी", क्षेत्रीय प्रचारक प्रमुख, राकेश जी, संगटन मंत्री, सीमाजन कल्याण , विजय कुमार जी, प्रान्त प्रचारक , जोधपुर प्रान्त, गोपाल जी प्रान्त प्रचारक , जयपुर , गजेन्द्र सिंह जी, प्रान्त प्रचारक, चित्तोड़ प्रान्त, तुलसी नारायण जी, प्रान्त सेवा प्रमुख, मुरली जी, सह प्रान्त प्रचारक, चित्तोड़ प्रान्त, अरुण कान्त जी , क्षेत्रीय कार्यकारिणी सदस्य , अनिल जी , संगटन मंत्री ,विश्व हिन्दू परिषद, जयपुर प्रान्त, गंगा विशन जी, प्रान्त मंत्री, प्रज्ञा प्रवाह, हुल्लास जी, संस्कृत भारती , निम्ब सिंह जी , सीमा जन कल्याण समिति, ओम प्रकाश जी , महाराणा प्रताप समरक समिति , कृषण मुरारी जी , क्षेत्रीय संगटन मंत्री, ग्राम विकास, कैलाश जी, क्षेत्रीय बौद्धिक प्रमुख, शिव प्रसाद जी, विद्या भारती, हरी शंकर जी, विश्व हिन्दू परिषद उपस्थित थे.
शवयात्रा में मान. ओम प्रकाश माथुर, राज्य सभा सदस्य , अरुण चतुर्वेदी, प्रदेश अध्यक्ष , भाजपा, राजस्थान, घनश्याम जी तिवाड़ी, वासुदेव देवनानी, ललित किशोरे चतुर्वेदी , जोधपुर के महापौर रामेश्वर जी दाधीच , बाबु सिंह जी, विधायक, सूर्यकांता, विधायिका, कैलाश भंसाली , वधायक, महेंद्र मेघवाल ,मेघ राज लोहिया, राजेंद्र गहलोत, प्रसन्न चाँद मेहता, पब्बा राम विश्नोई, दामोदर बंग, राजेंद्र कुमार गहलोत आदि उपस्थित थे. वही गजे सिंह सरेंचा जोधपुर देहात, भाजपा अध्यक्ष , नरेन्द्र सिंह कछवाह , शहर भाजपा अध्यक्ष , जीतेन्द्र लोधा, उपेन्द्र दावे, जोगाराम पटेल, महेंद्र राठोड, गजेन्द्र सिंह शेखावत, मंगू सिंह राठोड, गणेश बिजनी, हेमंत घोष, भवानी मॉल माथुर, पूर्व mahaadhivakta नरपत मल लोढा, पूर्व कुलपति पुर्शोतम जी परांजपे, जीवन लाल माथुर, कान्ति लाल जी ठाकुर, श्याम मनोहर जी, जसवंत जी खत्री, खोब्चंद जी खत्री, सत्यपाल जी हर्ष, कैलाश जी भसीन, भंवर लाल जी कोठारी, राजेंद्र सिंह राजपुरोहित, रामनाथ जी महाराज आदि गणमान्य स्जमिल थे.

स्वर्गाश्रम में भय्या जी की चिता में इनके भतीजे राजकुमार जी भार्गव तथा कर्नल अनिल कुमार जी भार्गव ने अग्नि प्रदान की. भय्या जी के दो भाई श्री बिशन दास जी तथा घनश्याम दास जी भी उपस्थित थे.

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित