मंगलवार, 9 नवंबर 2010

खबरे इधर उधर से -

हिंदू विरोधी नीतियों के विरोध में जनसभा

पाली. केंद्र सरकार की हिंदू विरोधी नीतियों के विरोध में राष्ट्रव्यापी आह्वान के तहत मंगलवार को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ द्वारा सूरजपोल पर प्रदर्शन तथा जनसभा की जाएगी।

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के मेघराज बंब ने सोमवार को केशव भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता में बताया कि कमजोर इच्छाशक्ति वाली केंद्र सरकार अपने काले कारनामों से ध्यान हटाने के लिए लगातार हिंदू समाज और राष्ट्रवादी संगठन आरएसएस को अपमानित करने का सुनियोजित षडय़ंत्र चला रही है। लोकतांत्रिक पद्वति से इसका प्रतिकार बहुत जरूरी बन गया है। इसलिए आरएसएस द्वारा 10 नवंबर को देशभर के जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन जनसभा का कार्यक्रम रखा गया है।

सूरजपोल पर आयोजित जनसभा को आरएसएस के प्रांत प्रचारक विजयकुमार संबोधित करेंगे। वोट बैंक बचाने के लिए मुस्लिम तुष्टिकरण की नीति के तहत संघ को बदनाम किया जा रहा है। जगदगुरू शंकराचार्य की गिरफ्तारी, स्वामी असीमानंद और संघ नेताओं पर विस्फोट के मिथ्या आरोप लगाकर हिंदुओं को आतंकवाद का पर्याय बनाया जा रहा है। देश की 75 फीसदी जनता हिंदू है और जब हिंदू आतंकवादी बन गया तो यह देश बचेगा और नहीं नेता। जिला संघ चालक डॉ. श्रीलाल ने बताया कि कार्यक्रम को लेकर तहसील स्तर पर संघ की बैठक कर तैयारी की गई है

Source : http://www.bhaskar.com/article/RAJ-OTH-955564-1529354.html

आरएसएस सांस्कृतिक राष्ट्रवादी संगठन

सिरोही। राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ की जिला स्तरीय बैठक बुधवार को स्थानीय रामझरोखा मंदिर परिसर में आयोजित हुई। बैठक को संबोधित करते हुए विभाग प्रचारक चन्द्रशेखर ने कहा कि पिछले कुछ समय से केन्द्र राज्य सरकार द्वारा सांस्कृतिक एवं राष्टÑवादी संगठन राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ को षडयंत्र पूर्वक सुनियोजित तरीके से बदनाम करने का प्रयत्न किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अजमेर बम ब्लास्ट माले गांव बस धमाकों से संघ संघ के वरिष्ठ प्रचारक इन्देश कुमार को षडयंत्र रचकर घसीटा जा रहा है जो कि निन्दनीय है। देशभक्त संगठन राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ जो कि समाज राष्टÑ पर आने वाली प्रत्येक विपदा दु: दर्द में समाज के साथ खड़ा रहना है तथा संघ का प्रत्येक स्वयं सेवक तन-मन-धन पूर्वक सहयोग करता है, जिसका इतिहास गवाह है एवं सम्पूर्ण हिन्दू समाज साक्षी है। जिला सहकार्यवाह जितेन्द्र कुमार रावल ने बताया कि बैठक में आगामी दस नवम्बर को जिला केन्द्र पर विशाल जनसभा विरोध प्रदर्शन करने का तय किया गया। उन्होंने बताया कि यह विरोध प्रदर्शन दस नवम्बर को दोपहर एक बजे रामझरोखा में रखा गया है। इस मौके पर विश्व हिन्दु परिषद, विद्या भारती, भारतीय मजदूर संघ, भारतीय जनता पार्टी, विद्यार्थी परिषद, वनवासी कल्याण परिषद, किसान संघ आदि विविध संगठनों के कार्यकर्त्ता उपस्थित होंगे।

Source : http://dainiknavajyoti.com/hindi/news_details.php?newsid=25184

संघ का धरना दस को

कालन्द्री राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ की दिन प्रतिदिन बढ़ती लोकप्रियता से सत्ता में बैठे लोग भयभीत है इस कारण संघ की देशव्यापी शक्ति को छिन्न भिन्न करने के लिए आए दिन साजिश रची जा रही है। भगवा आतंकवाद कहकर संघ हिन्दू समाज को बदनाम किया जा रहा है जिस पर आपत्ति जताते हुए राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ के पाली विभाग सहकार्यवाह रामचन्द्र ने कडे शब्दों में निंदा करते हुए कस्बे के आदर्श विद्या मंदिर विद्यालय प्रांगण में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। दीपावली स्नेह मिलन समारोह के उपलक्ष में कस्बे के आदर्श विद्या मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में राष्टÑीय स्वय सेवक संघ, किसान संघ, विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, विद्या भारती, शिक्षक संघ, भाजपा एवं अन्य संगठनों के पदाधिकारियों कस्बे के आस पास के गांवों के ग्रामीणों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया।
संघ के जिला कार्यवाह जितेन्द्र रावल ने समारोह का संचालन करते हुए आगामी 10 नवंबर को जिला स्तर पर होने वाले केन्प्द्र सरकार के विरूद्ध धरना प्रदर्शा की विस्तृत जानकारी दी। सिरोही जिला मुख्यालय में जिले के कार्यकर्ता एकत्रित होकर केन्द्र की कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर जिला कलेक्टर को ज्ञापन देंगे।

Source : http://dainiknavajyoti.com/hindi/news_details.php?newsid=25363

संघ का देशव्यापी प्रदर्शन 10 को

बाड़मेर। पिछले कुछ वर्षों से केन्द्र सरकार हिन्दू विरोधी ताकतों द्वारा हिन्दुत्व को अपमानित करने के विरोध में 10 नवम्बर को राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ देशव्यापी विशाल प्रदर्शन करेगा। बाड़मेर जिले का प्रदर्शन जिला कलेक्ट्रेट के समक्ष प्रात: 11.30 बजे होगा। इस संबंध में शनिवार रात जोशियों का निचला वास स्थित आदर्श विद्या मन्दिर में राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ तथा विविध संगठनों की बैठक आयोजित की गई।बैठक को संबोधित करते हुए संघ के विभाग प्रचारक राजाराम ने कहा कि 85 वर्षों से राष्टÑसेवा में लगे स्वयं सेवकों को पवित्र मार्ग से हटाने के लिए कई कुत्सित प्रयास हुए, लेकिन तमाम प्रकार की बाधाओं को लांघकर संघ केवल भारत वरन् पूरे विश्व में अपना परचम लहरा रहा है। अब एक बार फिर केन्द्र सरकार तुष्टिकरण की राजनीति के चलते हिन्दुत्व और संघ को मिटाने का दुस्साहस कर रही है, लेकिन सभी हथकण्डे अपनाने के बावजूद संघ के स्वयंसेवक राह पर आगे बढ़ते जा रहे हैं।। भगवा आतंकवाद को सिद्ध करने में सरकार असफल हो रही है।
ऐसे में पहली बार राष्टीय स्वयं सेवक संघ अपने बैनर तले इसके विरोध में खड़ी हो रही है।
केन्द्रीय योजना के अनुसार पूरे बाड़मेर जिले का विशाल प्रदर्शन सफल हो, इसको लेकर बैठक में चर्चा की गई। बैठक में विभाग संघ चालक, दुर्गेश सोनी, जिला संघ चालक पुखराज गुप्ता ने भी कार्यक्रम के व्यापक प्रचार-प्रसार की बात कही। इस अवसर पर विहिप, बजरंग दल, सीमाजन कल्याण समिति, सेवा भारती, संस्कृत भारती, विद्या भारती समेत कई संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

Source : http://dainiknavajyoti.com/hindi/news_details.php?newsid=25331

विरोध प्रदर्शन 10 को

जैसलमेर। केन्द्र सरकार की हिंदू विरोधी नीतियों के विरोध में राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ 10 नवम्बर को जिला मुख्यालय पर विशाल जुलूस निकालकर विरोध का प्रदर्शन करेगा। सत्यदेव व्यास उद्यान में गांव और शहर से एकत्रित होने वाले हजारों लोग मुख्य बाजारों से जुलूस के साथ जिला कलेक्ट्रेट पहुंचेगे। तत्पश्चात जिला कलक्टर के माध्यम से राष्टÑपति के नाम का ज्ञापन सौंपा जाएगा। जिला संघ चालक त्रिलोकचंद खत्री ने बताया कि विरोध प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए संघ के स्वयं सेवक जोर-शोर से तैयारियों में जुट गए हैं। इसके लिए जैसलमेर नगर को 19 भागों में विभक्त कर स्वयं सेवकों को अलग-अलग दल बनाकर जनसंपर्क करने की जिम्मेदारी सौंपी गई हंै। संघ के कार्यकर्ता नगर गांवों के विभिन्न हिस्सों में पहुंचकर लोगों को विरोध प्रदर्शन के विषय से अवगत करवा रहे है। स्वयं सेवकों द्वारा विरोध प्रदर्शन से संबंधित पत्रक बांटे जा रहे है तथा जिलावासियों से देश के अन्य भागों की तरह ही राष्टÑवादी संगठन राष्टÑीय स्वयं सेवक संघ के विरूद्ध केन्द्र सरकार के षड्यंत्र को लेकर आक्रोश व्याप्त है।
खत्री ने बताया कि सरकारी कुचक्र को रोकने और भारत माता के पुन:जयघोष के लिए 10 नवम्बर को आयोजित केन्द्र सरकार की नीतियों के विरोध में विशाल जल प्रदर्शन किया जाएगा। इस संबंध में संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों के एक दल ने भू,भोपा, पिथोड़ाई, पिथला, आसलोई, नांदा, जानरा एवं खुहड़ी आदि गांवों का भ्रमण कर धर्मप्रेमी लोगों से आग्रह किया कि वे केन्द्र सरकार द्वारा वर्णित हिदू, आंतकवाद को लेकर आरएसएस के खिलाफ रचे जा रहे षड्यंत्र का जवाब देने के लिए 10 नवम्बर को जैसलमेर पहुंचकर आयोजित जन प्रदर्शन में सहभागिता निभाए।

Source : http://dainiknavajyoti.com/hindi/news_details.php?newsid=25354

'सभ्यता-संस्कृति की रक्षा का आंदोलन'
Monday, 08 Nov 2010 10:42:42 hrs IST

हनुमानगढ़। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) पहली बार अपने बैनर तले धरना-प्रदर्शन देगा। आरएसएस और उनके सहयोगी संगठन दस नवम्बर को जिला कलक्टरी पर धरना देकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन देंगे। धरने में आरएसएस, विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, भारतीय किसान संघ, भारतीय मजदूर संघ, भारतीय जनता पार्टी, विद्या भारती सहित अन्य सहयोगी संगठनों के कार्यकर्ता शामिल होंगे।

आंदोलन की तैयारी और रणनीति को लेकर लगभग दो दर्जन कार्यकर्ताओं की बैठक रविवार शाम को आरएसएस के जिला कार्यवाह कैलाशचन्द्र की अध्यक्षता में हुई। बैठक में वक्ताओं ने कहा कि वोट की राजनीति के चलते एक वर्ग विशेष को प्रसन्न करने के लिए कार्य किया जा रहा है। देश के हितों की अनदेखी की जा रही है। वक्ताओं ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राष्ट्रहित में कार्य करता है। क्षेत्रवाद, भाषावाद व जातिवाद से ऊपर उठकर सम्पूर्ण राष्ट्र के लिए कार्य किया जा रहा है।

आरएसएस में व्यक्ति की नहीं बल्कि देश की पूजा की जाती है। वक्ताओं ने कहा कि राष्ट्र के विकास के लिए जरूरी ज्वंलत मुद्दों को लेकर कार्य नहीं कर कुछ राजनीतिक दल राष्ट्र को छिन्न-भिन्न और विघटनकारी तत्वों के सहयोग के लिए जुटे हुए हैं। हिन्दू सभ्यता-संस्कृति पर हमले हो रहे हैं। वक्ताओं ने कहा कि आरएसएस हिन्दू सभ्यता-संस्कृति की रक्षा के लिए संघर्षरत है। देश भर में जिला मुख्यालयों पर धरना इसी कड़ी का अंग है।

उन्होंने कहा कि संघ जाति-धर्म के खिलाफ नहीं है बल्कि देश और हिन्दूत्व के लिए खतरा बने तबकों का विरोध करता है। वक्ताओं ने कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि देश में आतंककारियों को संरक्षण दिया जा रहा है। उनसे वार्ताएं की जाती हैं। उनके लिए कानूनों में परिवर्तन किया जा रहा है। देश में गुलामी के प्रतीकों को देश का गौरव बताया जा रहा है। विदेशी राष्ट्राध्यक्षों को देश के गौरवशाली और धार्मिक स्थलों का भ्रमण नहीं करवाया जाता है। बैठक में जिला कार्यवाह कैलाशचन्द्र, भारतीय मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष हरदेव जोशी, विकास गुप्ता, नगर परिषद उप सभापति कालूराम शर्मा, पार्षद देवेन्द्र पारीक व उमाशंकर अरूण, जसपाल सिंह, पूर्व पार्षद बलराज सिंह व सौरभ शर्मा, अशोक भारतीय, जसवन्त भादू, डा. भारत भूषण शर्मा, रामपाल सिंह आदि उपस्थित हुए।

Source : http://www.rajasthanpatrika.com/news/Hanumangarh/1182010/hanumangarh-/75256

कार्यकर्ता घूमे गांव-गांव
Tuesday, 09 Nov 2010 9:23:01 hrs IST

पोकरण। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की ओर से 10 नवम्बर को जिला मुख्यालय पर आयोजित किए जाने वाले विरोध प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए संघ व भाजपा कार्यकर्ताओं ने सोमवार को दो अलग-अलग दल गठित कर गांवों में जनसंपर्क किया।

संघ के जिला सहकार्यवाह चिरंजीलाल सोनी ने बताया कि केन्द्र सरकार की राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रति दमनकारी नीति व उसे आतंकवादी संगठन करार देकर उसकी छवि को धूमिल करने, संघ के वरिष्ठ नेताओं को झूठे मामलों में फंसाने व उन्हे बदनाम करने के षड्यंत्र के विरोध में जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन कर जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

उन्होंने बताया कि विरोध प्रदर्शन के लिए भाजपा के प्रदेश समिति के सदस्य शैतानसिंह राठौड़, जिला महामंत्री रणवीरसिंह गोदारा, चिरंजीलाल पालीवाल, रतनसिंह जोधा व मदनसिंह राठौड़ ने क्षेत्र के माड़वा, भणियाणा, सरदारसिंह की ढाणी, जसवंतपुरा, बल्लूसिंह की ढाणी, भीखोड़ाई, बलाड़, राजमथाई, बांधेवा, फलसूण्ड आदि गांवों का दौरा कर जनसंपर्क किया।

इसी तरह गुलाबसिंह के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने ऊजला, झलारिया, बारठ का गांव, रातडिया, झाबरा, सांकडिया, गड़ी चंपावतान्, पदमपुरा व भुर्जगढ का दौरा कर गांवों में सभाएं आयोजित कीं।

रामदेवरा। भाजपा व राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को गणेश मंदिर में सभा कर ग्रामीणों सेे विरोध प्रदर्शन में भाग लेने का आग्रह किया। भाजपा नेता शैतानसिंह राठौड़ की अध्यक्षता में आयोजित सभा को संबोघित करते हुए कहा कि हिन्दू समाज के लिए हर कदम पर अपना कत्तüव्य निभाने वाले संघ को बदनाम करने वालों को करारा जवाब जनता ही दे सकती है।

इसके लिए अघिक संख्या में लोग जैसलमेर पहुंचकर विरोध प्रदर्शन में भाग लें। सभा को भाजपा सांकड़ा मंडल अध्यक्ष नारायणसिंह, रणवीरसिंह गोदारा ने, जुगलकिशोर व्यास, मदनसिंह राजमथाई ने भी संबोघित किया।

Source : http://www.rajasthanpatrika.com/news/Jaisalmer/1192010/jaislmer-news/75599

'आघात सहन नहीं'
Monday, 08 Nov 2010 12:12:48 hrs IST

alt="jalore news" align=middle v:shapes="_x0000_i1026"> v:shapes="_x0000_s1027">

आहोर। हिन्दू समाज पर लगातार हो रहे आघातों को सहन नहीं किया जाएगा। तुष्टीकरण के कारण हिन्दू समाज को अपमानित करने का जो षडयंत्र हो रहा है उसका हिन्दू समाज मुंह तोड़ जवाब देगा।

यह बात महामंडलेश्वर संतोषभारती महाराज ने रविवार को निकटवर्ती भाद्राजून ढाणी स्थित कृष्ण गौशाला में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यकर्ताओं की आयोजित हुई बैठक में कही।

भाद्राजून उप तहसील क्षेत्र के विभिन्न गांवों के प्रमुख कार्यकर्ताओं की आयोजित हुई बैठक में हिन्दूवादी शक्तियों को अपमानित करने के विरोध में 10 नवम्बर को जिला मुख्यालय पर होने वाले धरना प्रदर्शन में अघिकाघिक संख्या में भाग लेने का आह्वान किया गया।

बैठक को बाड़मेर विभाग प्रचार प्रमुख अजयकुमार गुप्ता व भाद्राजून तहसील सम्पर्क प्रमुख चतराराम चौधरी व अन्य ने संबोघित करते हुए जिला मुख्यालय पर होने वाले धरने मे भाग लेने का आह्वान किया

Source : http://www.rajasthanpatrika.com/news/Jalore/1182010/jalore-news/75302

सीमी व संघ में भेद करना सीखें : गुप्ता

बाड़मेर आतंकवादी संगठन सीमी की तुलना राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से कर राष्ट्र हिन्दुत्व विरोधी षडयंत्र रचा गया है। इसे भी किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ऐसे में संघ के नेतृत्व में देश व्यापी प्रदर्शन कर लोगों को जागृत किया जा रहा है। यह बात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला संघ चालक पुखराज गुप्ता ने सोमवार को पत्रकार वार्ता में कही। उन्होंने कहा कि देश में कहीं पर भी दंगा होता है तो संघ को बदनाम किया जाता है, लेकिन देश की अदालतों के जजों ने कभी भी संघ को दोषी करार नहीं दिया। भगवा आतंकवाद के नाम पर हिन्दुत्व पर चोट की जा रही है। उड़ीसा में संत लक्ष्मणानंद की हत्या करवा दी गई। कश्मीर को नया मोड़ दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमने कभी भी मुस्लिम विरोधी बात नहीं की, हिन्दुत्व के विकास की बात कही है। ऐसे में संघ को मुस्लिम विरोधी संगठन करार देना गलत है। हिन्दुओं के महापुरुषों को बदनाम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि षडयंत्रकारी नीति के विरोध में 10 नवंबर को देशव्यापी प्रदर्शन के तहत कलेक्ट्रेट के सामने सुबह 11.30 बजे प्रदर्शन किया जाएगा।

विरोध प्रदर्शन कल

बालोतरा & राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से देशव्यापी विरोध प्रदर्शन के तहत बुधवार को जिला मुख्यालय पर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। संघ के नगर कार्यवाहक ललित खंडेलवाल ने बताया कि केंद्र सरकार की ओर से राष्ट्रवादी संगठन आरएसएस की तुलना सीमी जैसे आतंकवादी संगठन से करती है जो निंदनीय है। इन्हीं तुष्टीकरण की नीतियों के विरोध में प्रदर्शन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बुधवार को प्रात: 8 बजे आजाद चौक, जसोल से बसें बाड़मेर की ओर रवाना होगी

Source : http://www.bhaskar.com/article/RAJ-OTH-955056-1529777.html?HT3=

कलक्ट्रेट पर आरएसएस का धरना कल
Tuesday, 09 Nov 2010 12:44:22 hrs IST

नागौर । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का नाम अजमेर दरगाह बम विस्फोट प्रकरण में घसीटे जाने के विरोध में संघ के कार्यकर्ताओं की ओर से बुधवार दोपहर एक बजे जिला कलक्टर कार्यालय के सामने धरना दिया जाएगा। संघ की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि संघ के अखिल भारतीय अघिकारी इंद्रेश का नाम उछाल कर संघ को बदनाम किया जा रहा है। संघ कभी किसी राष्ट्र विरोधी गतिविघि में शामिल नहीं हुआ है। संघ की प्रतिष्ठा बिगाडने की यह केंद्र सरकार की साजिश है। धरने के बाद जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

Source : http://www.rajasthanpatrika.com/news/Nagaur/1192010/nagaur/75859

बालोतरा आरएसएस कार्यकर्ता दस नवंबर को बाड़मेर जिला कलेक्ट्रेट के सामने शक्ति प्रदर्शन करेंगे। प्रदर्शन में भाग लेने के लिए बालोतरा क्षेत्र से कार्यकर्ता भी जाएंगे।

संघ के जिला कार्यवाह देवेंद्र माली ने बताया कि केंद्र सरकार राज्य सरकार की ओर से राष्ट्रवादी संगठन स्वयंसेवक संघ की छवि खराब करने की सोची-

समझी योजना के तहत अजमेर बमकांड अन्य आतंकवादी घटनाओं में संघ के कार्यकर्ताओं के नाम जोडऩे, संघ की मुस्लिम आतंकवादी संगठन सिमी से तुलना करने, कश्मीर में आतंकवादियों के सामने आत्म समर्पण करने तथा विभिन्न भ्रष्टाचार के घोटालों को दबाने की कोशिश करने के खिलाफ दस नवंबर को जिला केंद्र बाड़मेर में शक्ति प्रदर्शन कर विरोध किया जाएगा। उन्होंने बताया कि बालोतरा उपखंड के सभी स्थानों से संघ के कार्यकर्ता विभिन्न बसों अन्य साधनों से १० नवंबर को सुबह 7 बजे रवाना होकर साढ़े दस बजे जिला कलेक्ट्रेट पहुंचेंगे। वहां पर जिले से आए अन्य कार्यकर्ताओं के साथ प्रदर्शन में भाग लेते हुए कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

बालोतरा नगर के नगर कार्यवाहक मुकेश गुप्ता ने बताया कि भगतसिंह सभा स्थल मैदान से १० नवंबर को निर्धारित समय पर कार्यकर्ताओं की बसें रवाना होंगी। उन्होंने बताया कि नगर में कार्यकर्ताओं से संपर्क करने के लिए विभिन्न टोलियां बनाई गई है।

Source : http://www.bhaskar.com/article/RAJ-OTH-953361-1526880.html

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित