शनिवार, 15 मई 2010

shat shat naman !




सुखदेव थापर भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के एक प्रमुख क्रांतिकारी थे । इन्हें भगत सिंह और राजगुरु के साथ २३ मार्च १९३१ को फाँसी पर लटका दिया गया था । इनकी शहादत को अब भी भारत में सम्मान की दृष्टि से देखा जाता है ।

जन्म इनका जन्म १५ मई १९०७ को हुआ था । भगत सिंह, कॉमरेड रामचन्द्र एवम् भगवती चरण बोहरा के साथ लाहौर में नौजवान भारत सभा का गठन किया था । सांडर्स हत्या कांड में इन्होंने भगत सिंह तथा राजगुरु का साथ दिया था । १९२९ में जेल में कैदियों के साथ अमानवीय व्यवहार किये जाने के विरोध में व्यापक हड़ताल में भाग लिया था । भगतसिंह तथा राजगुरु के साथ ये भी १९३१ को शहीद हो गए ।


विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित