बुधवार, 23 दिसंबर 2009

विश्व मंगल गोऊ ग्राम यात्रा का जोरदार स्वागत - राह में बिछाए पुष्प

सिरोही। राह में गुलाब की पंखुडियों की बारिश और भारत माता व गाय माता के जयकारों के साथ विश्व मंगल गौ ग्राम राष्ट्रीय यात्रा का जिले के अनेक गांवों व कस्बों में भव्य स्वागत किया गया। यात्रा ने मंगलवार को गुजरात की ओर से आबूरोड होकर राज्य में प्रवेश किया। जिला मुख्यालय पर रामझरोखा मैदान में धर्मसभा में शंकराचार्य राघवेश्वर भारती ने अखिल भारतीय गौ-ग्राम राष्ट्रीय यात्रा के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि ग्राम, कृषि व किसान की पुनस्र्थापना के लिए गौ संवर्घन, गाय को राष्ट्रीय प्राणी घोषित करना, गौवंश की रक्षा के लिए केन्द्रीय कानून बनाना, सर्वधर्मीय जन प्रतिनिघि तैयार करना आवश्यक है। उन्होंने सम्पूर्ण भारत में गौ रक्षा हस्ताक्षर अभियान चलाने और राष्ट्रपति को विश्व के सबसे बडे हस्ताक्षर अभियान के माध्यम से पचास करोड़ हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन सौंपने, भारतीय नस्लों का संरक्षण व संवर्घन एवं नस्ल सुधार करने की बात कही। वहीं अखिलेश्वनरानंद महाराज ने बताया कि यात्रा एक सौ आठ दिन में कुल चार सौ स्थानों पर जाकर लगभग 20 हजार किमी की दूरी तय करेगी। स्वागत समिति के अध्यक्ष रामलाल रावल, जिलाध्यक्ष नारायणसिंह डाबी, मीडिया प्रभारी महेन्द्र प्रजापत समेत कई लोग उपस्थित थे। इससे पहले राघवेश्वर भारती व संत अखिलेश्वरानंद ने गौ-माता का पूजन किया। वहीं संत सत्यानंद महाराज रविधाम एवं संत शंभूनाथ महाराज ने गौ ध्वजारोहण किया।
आबूरोड। गौकर्ण पीठ कर्नाटक के शंकराचार्य राघवेश्वर भारती ने मंगलवार को आकराभट्टा में आयोजित धर्मसभा में कहा कि भारतीय संस्कृति में गाय जनजीवन का प्रमुख हिस्सा रही है। गौहत्या के कारण ही देश में विपत्तियां सिर उठा रही है। ऎसे में गौरक्षा करना प्रत्येक नागरिका कर्तव्य है। गौ ग्राम यात्रा के राष्ट्रीय महासचिव शंकरलाल ने गाय की पौराणिक और धार्मिक उपयोगिता बताई। जबलपुर के अखिलेश्वर महाराज ने धर्मसभा में मौजूद नागरिकों को गौ रक्षा का संकल्प दिलवाया।कार्यक्रम के आरंभ में गरमा शर्मा ने गाय के महत्व पर आधारित कविता प्रस्तुत की। आरएसएस के क्षेत्रीय प्रचारक सुरेशचंद्र, क्षेत्रीय प्रचारक प्रमुख नंदलाल जोशी, क्षेत्रीय संपर्क प्रमुख प्रकाशचंद्र गुप्ता, क्षेत्रीय बौद्धिक प्रमुख कैलाशचंद्र सहित प्रमुख पदाघिकारी उपस्थित थे। यहां के भगवानदास अग्रवाल शुरू से अंत तक यात्रा के साथ रहेंगे। इससे पहले विश्व मंगल गौग्राम मुख्य यात्रा के गुजरात सीमा से राज्य में प्रवेश करने पर यहां प्रवेश पर तहसील समिति अध्यक्ष रामेश्वरलाल अग्रवाल, वैद्य दामोदरप्रसाद चतुर्वेदी, सागरमल अग्रवाल, आरएसएस के जिला कार्यवाह अशोक चतुर्वेदी व क्षेत्रीय विधायक जगसीराम कोली सहित प्रमुख पदाघिकारियों ने अगवानी की।
सरूपगंज। विश्व मंगल गौ ग्राम की मुख्य यात्रा के आबूरोड से सिरोही जाते समय मंगलवार शाम को सरूपगंज बायपास पर पहुंचने पर ग्रामवासियों ने स्वागत किया। यात्रा में आए साधु महात्माओं का फूल मालाओं से लाद दिया गया। पवन जोशी, मनमोहन शर्मा, हेमन्त शर्मा, भरत प्रजापत, नरपतसिंह सहित कई लोग उपस्थित थे।पिण्डवाड़ा। राष्ट्रीय यात्रा का मंगलवार शाम वोलकेम चौराहा, झाड़ोली, वीरवाड़ा समेत हाइवे मार्ग पर पहुंचने पर लोगों ने स्वागत किया। जिला संयोजक मोहनलाल डांगी के अनुसार यात्रा का झाड़ोली में बालिकाओं ने कलश व फूल मालाओं के साथ स्वागत किया। वहीं सिवेरा रोड व मुख्य बस स्टैंड पर भी स्वागत किया गया। तहसील संयोजक माधोराम पुरोहित, अर्जुन पुरोहित, रमेश देवड़ा समेत अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।
हुए भजन
सिरोही। दूध मांगोगे तो खीर देंगे और कश्मीर मांगोगे तो चीर देेगे के उद्घोष के साथ भजन गायक प्रकाश माली ने मायड थारो पूत कैठ, समेत अन्य देशभक्ति गीत व भजन सुनाए। यात्रा के पहुंचने तक माली ने लोगों को बांधे रखा।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित