शुक्रवार, 25 दिसंबर 2009

bikaner me vishwa mangal gou gram yatra ka bhavy स्वागत हुआ

बीकानेर। गो संरक्षण व संवर्द्धन के लिए कुरूक्षेत्र से 28 सितम्बर को रवाना हुई विश्व मंगल गो ग्राम यात्रा व उसके साथ आए शंकराचार्य व अन्य महात्माओं का गुरूवार को जगह-जगह भव्य स्वागत किया। यात्रा में शामिल रथ में स्थापित गो प्रतिमाओं व वास्तविक गाय व बछड़े का भी अनेक स्थानों पर पूजन किया गया। कलश यात्रा निकाली गई। यात्रा के सार्दुल स्कूल मैदान में पहुचने पर हुई सभा में गोकर्ण पीठाधीश्वर राघवेश्वर भारती ने कहा कि गौ संरक्षण व संवर्द्धन का आंदोलन देश, धर्म व संस्कृति का आंदोलन है। आम लोग संगठित प्रयास से गो रक्षा करें। किसान गांव की आत्मा तथा किसान का मूल आधार गाय है। गो संरक्षण से परिवार, समाज व देश ही नहीं विश्व का कल्याण होगा। धर्मसभा में शिवबाड़ी के लालेश्वर महादेव मंदिर के अधिष्ठाता संवित् सोमगिरि, मुकाम पीठाधीश्वर रामानंद शास्त्री, भंवर लाल कोठारी, निरंजन नाथ, जोधपुर के राम स्नेही सम्प्रदाय रामद्वारा के अमृताराम ने गौ माता के महत्व को उजागर किया। यात्रा संयोजक जेठानंद व्यास ने बताया कि बीकानेर की 56 बस्तियों में कार्यकर्ताओं ने घर-घर घूमकर एक लाख 30 हजार 500 लोगों के हस्ताक्षर करवाए है। करीब 35 हजार लोगों ने गौ पूजन किया। शंकराचार्य ने पूर्व में गौ पूजन किया तथा गो सेवा के लिए कार्य करने वाले पुरूषोत्तम डावड़ा, रामेश्वर तापडिया तथा बृजू महाराज का प्रशस्ति पत्र से सम्मान किया। डॉ.अशोक कलवार ने शंकराचार्य का परिचय दिया। साधु-संतों का बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल के अध्यक्ष शिव रतन अग्रवाल, स्वागत समिति अध्यक्ष चंपकमल सुराणा आदि ने स्वागत किया। स्टेशन के सामने शहर भाजपा अध्यक्ष शशि शर्मा, पूर्व अध्यक्ष गोपाल गहलोत व अनेक भाजपा कार्यकर्ताओं ने तथा गंगाशहर में खिलाडियों ने यात्रा का स्वागत किया। भारतीय जनता पार्टी गगाशहर मंडल के पूर्व महामंत्री मनोज पारख, भाजपा नेता मोहन सुराणा, मंडल अध्यक्ष बजरंग लखोटिया, पार्षदों आदि ने यात्रा का स्वागत किया। बजरंग दल महानगर संयोजक दुर्गा सिंह शेखावत के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सेवाएं दी। यात्रा शुक्रवार सुबह आठ बजे गंगाशहर के आदर्श विद्या मंदिर से श्रीडूंगरगढ़ के लिए प्रस्थान करेगी।

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित