मंगलवार, 13 अक्तूबर 2009

खबरे विश्व मंगल गोऊ ग्राम यात्रा की



गौ माता को घोषित करें राष्ट्रीय पशु : शंकराचार्य
पीलीभीत। गौ वध पर प्रंभावी अंकुश लगाने के लिए शीघ्र ही कारगार नीति बनाने की जरूरत है। साथ ही गौ माता को राष्ट्रीय पशु घोषित किया जाय। सोमवार की सायं यह विचार कोचि पीठ के शकराचार्य श्री राजेश्वर जी महाराज ने शहर के रामा कालेज मैदान में आयोजित सभा में व्यक्त किये। सभा का आयोजन विश्व मंगल गौ ग्राम यात्रा के स्वागत के मद्देनजर किया गया। उत्तराखंड प्रांत के खटीमा से पहुंची यात्रा का शहर में जोरदार ढंग से स्वागत किया गया।
सभा में शंकराचार्य ने कहा कि बड़े अफसोस की बात है कि कुत्ते को हम अपने साथ बेड पर सुलाते हैं और गाय रुपी मां को अपने से दूर करते जा रहे हैं। गौ वध पर रोक लगाने के लिए उन्होंने हिन्दुओं से आग्रह किया है कि दूध न देने वाली गाय को न बेच कर उसके मूत्र व गोबर से दवाई बनाने की कर्नाटक में कई कारखाने लगाये गये हैं। इससे किसान प्रतिदिन एक गाय से 50 रुपये कमा सकता है। इस तरह के कारखाने उत्तर प्रदेश में भी लगाये जायेंगे।
उन्होंने कहा कि हमें अहंकार न करके नम्रता व सहयोग की भावना से गौ सेवा करनी चाहिए उन्होंने जनता से अपील की है गाय पाले व पालन पोषण करें। गौ वध रोकने के लिए चलाये जा रहे हस्ताक्षर अभियान में अब तक पीलीभीत में 4लाख लोगों ने हस्ताक्षर किये। पूरे देश से 50 करोड़ की जनता का हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन राष्ट्रपति को सौंप कर गाय को राष्टीय पशु घोषित करने की मांग की जायेगी।
इस मौके पर ग्वालियर पीठ से आयी साध्वी हेमलता मुद्गल ने भी सभा को सम्बोधित किया। यात्रा में फिल्म अभिनेता सुरेश ओबेराय मौजूद रहे।
यह विश्व मंगल गौ ग्राम यात्रा एक माह पूर्व कुरूक्षेत्र से चली है जो सोमवार को सुबह मुरादाबाद से चलकर खटीमा होते शाम 5.30 बजे पीलीभीत पहुंची। आधे घंटे बाद ही बरेली के लिए रवाना हो गयी।
विश्व मंगल गौ ग्राम यात्रा को मुख्य उद्देश्य सम्पूर्ण देश में गौवंश हत्या बंदी कानून लागू कराना। इसके लिए राष्ट्रव्यापी आन्दोलन गौ रक्षा परिवार के रुप में चलाया जा रहा है। उक्त जानकारी चौ.देशराम मैमोरियल गऊसेवा ट्रस्ट के संस्थापक महेन्द्र सिंह टोकस व विश्व हिन्दू परिषद के जिला महामंत्री अम्बरीश मिश्रा ने दी ।
उन्होंने बताया कि गौ हत्या बंदी कानून के लिए देश के सभी साधू-संतों,मठ,मंदिर,धर्मशालाएं, धार्मिक संस्थान, उद्योगपतियों,व्यापारियों, फिल्मी कलाकारों, पढ़े-लिखे, बुद्धिजिवियों को एक साथ जुड़ कर एक मंच पर आना है। श्री मिश्र ने सभी गऊभक्तो व आम जनता से अपील की है वह अपने व आस-पास के लोगों को इस आंदोलन में जुड़ने के लिए प्रेरित करें। इसी क्रम में यह यात्रा एक माह पूर्व हरियाण के कुरूक्षेत्र से निकाली गयी है। जो देश के हर प्रांत व जिले तथा गांव-गांव होते हुए नागपुर में जाकर समाप्त हो जायेगी।
स्त्रोत : http://in.jagran.yahoo.com/news/local/uttarpradesh/4_1_5860026.html
वाहन रैली के साथ हुआ भव्य स्वागत
लोहाघाट (चंपावत)। विश्व मंगल गौ ग्राम यात्रा के रविवार को लोहाघाट पहुंचने पर विभिन्न हिन्दुवादी व राजनैतिक, सामाजिक संगठनों के अलावा पतंजलि योग समिति द्वारा भव्य स्वागत कर गौर रक्षा का संकल्प लिया। इस दौरान विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों के बीच गौ माता की पूजा अर्चना कर विश्व शांति की प्रार्थना भी की गयी। दोपहर में पिथौरागढ़ से पहुंची यात्रा का मरोड़ाखान से स्कूटर व वाहन रैली के साथ युवाओं व विभिन्न संगठनों के लोगों ने भव्य स्वागत किया। रैली छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष दीपक जोशी, छात्र संघ अध्यक्ष बलवंत सिंह करायत, योग समिति के अध्यक्ष एलएस मेहता, आरएसएस के जिला प्रचारक चंदन बोहरा के नेतृत्व में निकाली गयी। नगर के मुख्य मार्गो से रामलीला मैदान पहुंची रैली का विभिन्न संगठनों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। पतंजलि योग समिति की महिलाओं ने वंदन गीत प्रस्तुत कर माहौल आध्यात्मिक रस में डूबो दिया। गौ माता के पूजन के बाद विश्व हिन्दू परिषद के जगदीश ओली के संचालन में आयोजित समारोह में वक्ताओं ने गौ माता से मिलने वाले लाभों की जानकारी दी।
स्त्रोत : http://in.jagran.yahoo.com/news/local/uttranchal/4_5_5856709.html

विश्व संवाद केन्द्र जोधपुर द्वारा प्रकाशित